Home Government यूपी में मजबूत हो रही ‘मिशन शक्ति’ मुहिम, मिला 29 हजार शक्ति...

यूपी में मजबूत हो रही ‘मिशन शक्ति’ मुहिम, मिला 29 हजार शक्ति दीदी का साथ

लखनऊ: प्रदेश की नारी शक्ति की सुरक्षा, सम्मान और स्वावलंबन को समर्पित मिशन शक्ति (Mission Shakti) के चौथे चरण के तहत प्रदेश भर में महिलाओं को जागरुक करने, योगी सरकार की योजनाओं की जानकारी देने, उनकी समस्या का मौके पर ही निस्तारण करने एवं बच्चों को गुड और बेड टच की जानकारी देने समेत अन्य विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। मालूम हो कि इन सभी कार्यक्रमों का आगाज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को अपने सरकारी आवास से महिला सशक्तिकरण रैली रवाना कर किया था। योगी सरकार के मिशन शक्ति के चौथे चरण को सफल बनाने के लिए 28,965 पुलिस कर्मचारी-अधिकारी एवं विभिन्न विभाग के 7,738 अधिकारी-कर्मचारी प्रदेश की ग्राम पंचायातों, वार्ड, मोहल्लों, स्कूल, कॉलेज एवं शारदीय नवरात्र में स्थापित पंडाल, रामलीला मंच के साथ मेला स्थल का भ्रमण कर रहे हैं। इस दौरान नुक्कड़ नाटक, लघु फिल्म, महिला एवं बाल सुरक्षा संगठन के थीम साॅन्ग, ध्वनि संदेश और परिचर्चा का आयोजन किया जा रहा है।

ढ़ाई हजार से अधिक महिला अपराध से पीड़िताओं का महिला बीट कर्मियों ने जाना हाल-चाल
महिला एवं बाल सुरक्षा संगठन की अपर पुलिस महानिदेशक एवं मिशन शक्ति की नोडल पद्मजा चौहान ने बताया कि मिशन शक्ति के चौथे चरण के तहत 15 अक्टूबर से अब तक यूपी पुलिस एवं विभिन्न विभाग की आेर से प्रदेश के 76,043 पूजा पंडाल, रामलीला एवं मेला स्थल का भ्रमण किया गया है। इसके साथ ही टीम ने 40,655 ग्राम पंचायतों एवं 11,695 वार्डों में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये, जिसमें 9,39,188 महिला और 9,49,340 पुरुष शामिल हुए। इस दौरान योगी सरकार की विभिन्न जानकारियों से जुड़ी 8,04,159 प्रचार सामग्री वितरित की गयी। वहीं प्रदेश के 15,466 स्कूल-कॉलेज में बच्चों को बेड एवं गुड टच की जानकारी दी गयी।

इस दौरान 3,667 सांस्कृतिक कार्यक्रम, 8,692 लघु फिल्में, 14,109 ऑडियो क्लिप का प्रसारण किया गया जबकि 4,467 नुक्कड़ नाटक का मंचन किया गया। साथ ही 16,273 रेलवे/बस स्टेशन/अन्य सार्वजनिक स्थलों पर जागरुकता अभियान चलाया गया। इतना ही नहीं महिला बीट कर्मियों ने 2,595 महिला अपराध की पीड़िताओं से मुलाकात कर उनका हाल-चाल जाना गया। इस दौरान पीड़िताओं के 2,986 परिवारजनों की काउंसिलिंग की गयी। साथ ही 2,198 पीड़िताओं की काउंसिलिंग कर आवश्यक सहायता उपलब्ध करायी गयी। महिला बीट कर्मियों ने 6,303 हिस्ट्रीशीटर को चिन्हित कर 3,450 न्यायालय संबंधी आदेशों का तामीला कराया। महिला बीट कर्मी को बीट भ्रमण एवं पिंक बूथ पर 6,269 शिकायती पत्र मिले, जिसमें से 5,648 का मौके पर ही निस्तारण किया गया।

ग्रामीण इलाकों एवं मलिन बस्तियों में चलाया गया विशेष अभियान
अभियान के दौरान ग्रामीण इलाकों एवं मलिन बस्तियों में बाल विवाह, बाल श्रम उन्मूलन समेत अन्य बाल अपराधों को लेकर 10,357 विशेष जागरुकता कार्यक्रम चलाए गए, जिसमें 4,03,901 लोगों ने प्रतिभाग किया। इस दौरान 4,320 लघु फिल्मों का प्रसारण किया गया। साथ ही 2,763 नुक्कड़ नाटकों का मंचन किया गया। इसमें गैर सरकार संस्थानों के 2,098 लोगों ने प्रतिभाग किया।

Also Read: Namo Bharat Train: गाजियाबाद में PM मोदी ने देश की पहली Rapid ट्रेन को दिखाई हरी झंडी

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Secured By miniOrange