Breaking Tube
News

UP: ट्विटर पर बॉर्डर स्कीम हटाने, 2800 ग्रेड पे और वीकली ऑफ की मांग करना सिपाही को पड़ा महंगा, ADG के आदेश पर SP ने बैठाई जांच

mirzapur

बीते दिनों उत्तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) विभाग के कर्मचारियों का दर्द सोशल मीडिया पर देखने को मिला। इन कर्मचारियों ने प्रदेश सरकार तक अपनी समस्या पहुंचाने के लिए ट्विटर का सहारा लिया। ट्विटर इन पुलिसकर्मियों ने बॉर्डर स्कीम हटाने, 2800 ग्रेड पे, ड्यूटी के फिक्स घंटे और वीकली ऑफ जैसी मांगों को लेकर ट्वीट किए। लगातार ट्वीट किए जाने की वजह से इसके हैशटैग टॉप ट्रेंड में आ गए। लेकिन अब जिन पुलिसकर्मियों ने इन हैशटैग को ट्विटर पर ट्रेंड कराया उनके खिलाफ विभागीय जांच के आदेश दिए गए हैं।


एडीजी ने सिपाही पर एक्शन के लिए एसपी को लिखा पत्र


मामला मिर्जापुर जिले का है, यहां एक सिपाही द्वारा ट्विटर पर हैशटैग ट्रेंड कराने के मामले में कार्रवाई करने के लिए पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखा गया है। यह पत्र एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार द्वारा मिर्जापुर एसपी को लिखा गया है, जिसमें बताया गया है कि पुलिसकर्मियों द्वारा फेसबुक के प्राइवेट ग्रुप पीड़ित खाकी (उ0प्र0) जिसका नाम अब बदलकर सिर्फ खाकी (उ.प्र) कर दिया गया है।


Also Read: वाराणसी: अफसरों के उत्पीड़न से तंग आकर हेड कांस्टेबल ने राष्ट्रपति से मांगी इच्छामृत्यृ, जातिगत भेदभाव का लगाया आरोप


पत्र में कहा गया है कि इस ग्रुप में सोशल मीडिया पॉलिसी का उल्ल्घंन कर पोस्ट करने और ट्विटर पर हैशटैग चलाने वाले आरक्षियों को यूपी पुलिस नॉमिनल रोल सिस्टम से चिन्हित किया गया है, जिनके द्वारा यूपी पुलिस में आरक्षियों की वेतन विसंगति का उल्लेख करके ग्रेड पे 2800 दिये जाने व कर्मचारियों के लिए बॉर्डर स्कीम खत्म किये जाने के संबंध में ट्विटर पर हैशटैग #upp2800gp व #remove_border_scheme ट्रेंड कराये जाने का आह्वान किया गया।


आरक्षी अंबुज राय के खिलाफ बैठाई गई जांच


इस पत्र में कहा गया है कि दोनों हैशटैग 15 व 22 जुलाई को कुछ समय के लिए टॉप ट्रेंड कर में भी रहे थे। इसके बाद दोनों हैशटैग को विभिन्न तारीखों में दोबारा ट्रेंड कराए जाने की अपील की जा रही। आरक्षी अंबुज राय पुत्र सुरेश राय पीएनओ 152620646 द्वारा फेसबुक पर उक्त संबध में पोस्ट किया गया। पत्र में मिर्जापुर एसपी से आरक्षी अंबुज राय द्वारा किए गए फेसबुक पोस्ट के संबंध में जांच कराकर आवश्यक कार्रवाई करने की बात कही गई है।


Also Read: वाराणसी में ढाई साल पहले दिया गया था पुलिसकर्मियों को ब्लेजर, अब 3 दिन में वापस लौटाने का फरमान, नहीं तो सैलरी से होगी भरपाई


वहीं, एसपी मिर्जापुर ने सीओ सदर को पत्र लिखकर कहा कि मिर्जापुर में नियुक्त आरक्षी अंबुज राय पुत्र सुरेश राय द्वारा सोशल मीडिया के फेसबुक प्लेटफॉर्म पर सिर्फ खाकी (उ0प्र0) ग्रुप में सरकार की नीतियों के खिलाफ पोस्ट किया गया है। सीओ सदर से इस मामले की जांच कर आख्या तत्काल उपलब्ध कराने के लिए कहा गया है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

Adultfriendfinder Review October 2020

Jitendra Nishad

The Truth of the matter Associated with Your Free of charge Casino property Dollars Propaganda

Jitendra Nishad

Why you ought to Consider Buying a Bride Coming from a Wedding Invite

Jitendra Nishad