Breaking Tube
Police & Forces UP News

चुनाव से पहले UP पुलिस विभाग में होगा बड़ा फेरबदल, हटाए जायेंगे 3 साल से एक ही जगह जमे अफसर

आगामी चुनावों में कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए सीएम योगी लगातार पुलिस विभाग में परिवर्तन कर रहे हैं. इसी के अंतर्गत अब मुख्यमंत्री की समीक्षा बैठक के बाद 1 जिले में 3 साल या उससे अधिक समय से जमे पुलिसकर्मियों की स्क्रीनिंग के लिए दो कमेटी गठित कर दी गई हैं. जो भी पुलिसकर्मी दागी हैं उनकी कुर्सी छीन ली जायेगी. फिलहाल स्क्रीनिंग के दायरे में अपर पुलिस अधीक्षक (एएसपी) और पुलिस उपाधीक्षक (सीओ) स्तर के अधिकारियों को ही रखा गया है.



सीएम ने दिए निर्देश

जानकारी के मुताबिक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी जिलों के डीएम, एसपी समेत फील्ड में तैनात अफसरों की मैराथन समीक्षा बैठक की थी. इस बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने साफ निर्देश दिए कि जिले में थानेदार व co मेरिट के आधार पर पोस्ट किया जाए. दागी व जनता से शिकायत मिलने वाले पुलिस कर्मियों को एक हफ्ते में हटा दिया जाए. इसके साथ ही जो भी पुलिसकर्मी एक ही जिले में तीन साल से ज्यादा समय से डटे हैं, उनको भी स्क्रीनिंग के बाद वहां से हटाया जाएगा.


स्क्रीनिंग के दायरे में हैं ये अफसर

फिलहाल स्क्रीनिंग के दायरे में अपर पुलिस अधीक्षक (एएसपी) और पुलिस उपाधीक्षक (सीओ) स्तर के अधिकारियों को ही रखा गया है. इनके अलावा जांच और शिकायतों से घिरे निरीक्षक और उप-निरीक्षकों की भी स्क्रीनिंग कराने का फैसला किया गया है. गृह विभाग ने इन दोनों स्तर के पुलिस कर्मियों की स्क्रीनिंग के लिए दो अलग-अलग कमेटी का गठन कर दिया है .एक कमेटी एएसपी और सीओ स्तर के अधिकारियों की और दूसरी कमेटी निरीक्षक और उप निरीक्षक स्तर के पुलिस अधिकारियों की स्क्रीनिंग करेगी.


Also Read: गोरखपुर: फरियादी से बदसलूकी करने को रोका तो भड़के दीवान साहब, महिला सिपाही को दी देख लेने की धमकी


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

चित्रकूट: भगवान कामतानाथ के दर्शन कर अखिलेश बोले- प्रार्थना करता हूं कि बीजेपी सरकार जाए और जनता इन्हें जल्दी हटाए

Shruti Gaur

बरेली: मालखाने से शराब बेचने की शिकायतों पर SSP ने मांगी रिपोर्ट, इंचार्ज ने बताया- बारिश में बह गईं शराब की पेटियां

Jitendra Nishad

अपराध रोकने को योगी सरकार का बड़ा फैसला, 75 जिलों में तैनात किए नोडल IPS अफसर

BT Bureau