Breaking Tube
Crime Politics UP News

जिस नेता के संग मिलकर कानपुर एनकाउंटर पर न्याय मांग रहीं थीं प्रियंका गांधी, वही नेता तस्वीर में नजर आया दुर्दांत विकास दुबे के साथ

कानपुर के बिठूर (Kanpur, Bithoor) थाना क्षेत्र में बदमाशों को पकड़ने गई पुलिस पर किए गए हमले में सीओ और एसओ समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए. वहीं अब इस मामले को लेकर सियारी आरोपों का दौर शुरू हो चुका है. सपा, बसपा और कांग्रेस योगी सरकार में कानून व्यवस्था को लेकर सवाल खड़े कर रहे हैं. वहीं इसी बीच इस मामले एक नया मोड़ आता दिख रहा है. कानपुर की अकबरपुर सीट से सांसद रहे कांग्रेसी नेता राजाराम पाल (Rajaram Pal Congress )की तस्वीर दुर्दांत अपराधी विकासु (Vikas Dubey) दुबे के साथ वायरल हो रही है. वहीं हैरान कर देने वाली बात है कि इसी राजाराम संग मिलकर प्रियंका गांधी (Priyanaka Gandhi) शनिवार को कानपुर एनकाउंटर पर न्याय दिलाने के लिए अभियान छेड़ने की बात कह रहीं थीं.


दरअसल, शनिवार को प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश कांग्रेस के कुछ चुनिंदा नेताओं संग वीडियो कांफ्रेंसिंग की. प्रियंका ने अभियान चलाकर योगी सरकार को घेरने और पुलिसकर्मियों को न्याय दिलाने के लिए रणनीति पर चर्चा की. इस दौरान बतौर स्थानीय नेता अकबरपुर सीट से सांसद रहे राजाराम पाल भी शामिल हुए. प्रियंका गांधी ने राजराम पाल से अपराधियों और उनको संरक्षण देने वाले सत्ताधारी नेताओं को बेनकाब करने की रणनीति पर चर्चा की. वहीं मीटिंग के ठीक बाद उसी राजाराम पाल की तस्वीर कानपुर घटना का जिम्मेदार दुर्दांत अपराधी विकास दुबे के साथ सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी. कांग्रेस के हमले झेल रही बीजेपी को वायरल तस्वीर ने कांग्रेस औऱ प्रियंका गांधी पर निशाना साधने के मौके दे दिए.


विकास दुबे का समाजवादी कनेक्शन भी आया था सामने

बता दें कि इससे पहले विवेक दुबे का समाजवादी कनेक्शन सामने आया था. सोशल मीडिया पर एक पोस्टर वायरल हुुआ था, जिसमे विकास दुबे की पत्नी रिचा दुबे सपा के समर्थन पर चुनाव लड़ती दिख रहीं हैं. जानकारी के मुताबिक विकास दुबे की पत्नी रिचा दुबे (Richa Dubey) का पोस्टर उस वक्त का है, जब रिचा दुबे घिमऊ से जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रही थीं. जिला पंचायत सदस्य पद की दावेदार रिचा दुबे को उस वक्त समाजवादी पार्टी का समर्थन प्राप्त था. उसके पोस्टर में मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव की तस्वीरें भी साफ दिखाई दे रही हैं


बसपा की शह पर बनाई आपराधिक जमीन

बता दें कि हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की सपा और बसपा सरकारों में अच्छी पकड़ रही है. 2002 में बीएसपी की मायावती सरकार के दौरान उसकी तूती बोलती थी. उसके ऊपर जमीनों की अवैध खरीद फरोख्त का आरोप है. उसने गैर कानूनी तरीके से करोड़ों रुपये की संपत्तियां बनाई हैं. बिठूर में ही उसके स्कूल और कॉलेज हैं. वह एक लॉ कॉलेज का भी मालिक है. विकास दुबे अकबरपुर सीट से चुनाव लड़ने वाले बसपा सांसद राजाराम पाल सांसद औऱ मायावती सरकार में मंत्री रहे अनंत मिश्रा का बेहद करीबी बताया जा रहा है. इन्हीं के संरक्षण से विकास दुबे ने आपराधिक दुनिया में नाम कमाया.


Also Read: 300 अपराधियों को एनकाउंटर में ढेर करने वाले IPS ने शहीदों के मजाक पर इस अंदाज में दिया पूर्व सीएम अखिलेश को जवाब, सोशल यूजर्स ने कहा- शाबाश!


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

विवेक तिवारी हत्याकांड में एसआईटी ने दी रिपोर्ट, पुलिसवालों को ठहराया जिम्मेदार

BT Bureau

उन्नाव: अमित शाह बोले- सपा-बसपा की सरकारों में गुंडों से डरते थे पुलिसवाले

BT Bureau

अभिनेता प्रकाश राज ने किया लोकसभा चुनाव लड़ने का ऐलान, ये है पूरी योजना

BT Bureau