Home Government UP में अब उपभोक्ता खुद निकाल सकेंगे अपना बिजली बिल, ऊर्जा मंत्री...

UP में अब उपभोक्ता खुद निकाल सकेंगे अपना बिजली बिल, ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने लॉन्च किया ‘मोबाइल कंज्यूमर ऐप’

AK Sharma Mobile Consumer App

उत्तर प्रदेश में अब बिजली उपभोक्ताओं को गलत रीडिंग, गलत बिलिंग और बिल न मिलने की समस्या से जूझना नहीं पड़ेगा। उपभोक्ता अब खुद अपना बिजली का बिल निकाल और समय पर जमा कर सकेंगे। रविवार को ऊर्जा मंत्री एके शर्मा (AK Sharma) ने इसके लिए ‘मोबाइल कंज्यूमर ऐप’ (Mobile Consumer App) लॉन्च किया। मोबाइल ऐप के अलावा पावर कॉरपोरेाशन (UPPCL) की वेबसाइट www.uppcl.org या www.upenergy.in पर भी संबंधित सूचनाएं और मीटर रीडिंग डालकर बिल जनरेट किया जा सकेगा। प्रक्रिया पूरी होने के बाद 24 से 48 घंटे में बिल जनरेट हो जाएगा।

घर बैठे जनरेट कर सकेंगे बिल

ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने बताया कि बिलिंग संबंधी समस्याओं एवं शिकायतों से हमेशा के लिए निजात दिलाने तथा मीटर रीडर द्वारा की जा रही गलत रीडिंग और गलत बिलिंग संबंधी शिकायतों से बचाने के लिए उपभोक्ताओं को ट्रस्ट बिलिंग की सुविधा दी है। इससे उपभोक्ताओं को बिलिंग की एक आसान व्यवस्था मिलेगी, जिससे वह अपने घर बैठे ही स्वयं अपना बिल जनरेट कर सकेंगे और बिल भी प्राप्त कर सकेंगे।

Also Read: लखनऊ-कानपुर समेत UP के कई जिलों में पुलिस की बड़ी कार्रवाई, मस्जिदों से उतरवाए गए लाउडस्पीकर

ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने बताया कि नए उपभोक्ताओं को इस व्यवस्था का लाभ लेने के लिए पहले नजदीकी विद्युत कार्यालय या बिलिंग काउंटर से बिल को जनरेट करवाना होगा। फिर दूसरा बिल वे इससे निकाल सकेंगे।बकायेदार उपभोक्ता एकमुश्त समाधान योजना के तहत अपना अंतिम हिसाब करा लें। इसके बाद इस एप का लाभ ले पाएंगे।

गड़बड़ी मिलने पर डेढ़ गुना पेनल्टी

यदि बिल निकालने में किसी तरह की दिक्कत होती है तो अपने क्षेत्र के एसडीओ व अधिशासी अभियंता से संपर्क कर सकेगें या यूपीपीसीएल के हेल्पलाइन नंबर 1912 पर भी कॉल कर सकेंगे। इस वेबसाइट या कंज्यूमर एप पर माह में एक बार ही मीटर रीडिंग दर्ज की जा सकेगी। वर्तमान मीटर रीडिंग के साथ ही पिछले महीने की डिमांड रीडिंग को भी दर्ज करना होगा। ट्रस्ट बिलिंग की वास्तविकता की जांच के लिये विभाग द्वारा कभी-कभी उपभोक्ता के परिसर में जाकर भी मीटर की सही रीडिंग की जांच की जाएगी। इसमें गड़बड़ी मिलने पर डेढ़ गुना अतिरिक्त एनर्जी चार्ज वसूल किया जाएगा।

Also Read: UP: संविधान दिवस पर लोक भवन में हुआ उद्देशिका का पाठन, योगी सरकार के मंत्रीगण, अधिकारियों और स्कूली बच्चों ने पढ़ी उद्देशिका

इस दौरान यूपीपीसीएल के अध्यक्ष डा अशीष कुमार गोयल ने बतायाकि नई तकनीक से युक्त ट्रस्ट बिलिंग की सुविधा से 3.28 करोड़ उपभोक्तों को सही समय पर आसानी से बिल मिल सकेगा। बिल कलेक्शन के अन्य विकल्पों के प्रयोग की भी योजना पर कार्य हो रहा है। इसके तहत विभिन्न बैंकों, जनसेवा केन्द्रों, निजी संस्थानों का भी सहयोग लिया जाएगा।

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Secured By miniOrange