Breaking Tube
Corona Crime UP News

UP: जेल में ही रहेगी कोरोना वैक्सीन कूड़ेदान में फेंकने वाली निहा खान, इलाहाबाद HC ने खारिज की जमानत याचिका

ANM Niha khan

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने अलीगढ़ जनपद के जमालपुर स्थित शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में एएनएम निहा खान (ANM Niha Khan) की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी है। निहा खान को 29 कोविड-19 वैक्सीन लोडेड सीरिंज कूड़ेदान में फेंकने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। न्यायमूर्ति राहुल चतुर्वेदी ने निहा खान द्वारा दायर अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया।


सहकर्मियों पर फोड़ा अपनी करतूत का ठीकरा


याचिकाकर्ता निहा खान के अनुसार, उसे उसके सहकर्मियों ने राजनीतिक फायदे के लिए फंसाया था। उसने अनुरोध किया कि सीरिंज एक कूड़ेदान से बरामद की गई और उसके सहकर्मियों ने उसे व्यक्तिगत प्रतिद्वंद्विता के कारण फंसाया। 30 मई को जिला स्वास्थ्य अधिकारियों को घटना के बारे में पता चलने के बाद प्राथमिकी दर्ज की गई और मामले की जांच के लिए दो सदस्यीय जांच समिति का गठन किया गया।


Also Read: बागपत: शहजाद ने दलित नाबालिग को गोमांस खिलाकर कराया धर्मांतरण, अम्मी-अब्बू ने भी दिया साथ, भाइयों और दोस्तों ने किया बलात्कार


टीकाकरण प्रभारी आरफीन जेहरा के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है क्योंकि कथित घटना के बारे में पता चलने के बावजूद वह कथित तौर पर अधिकारियों को सूचित करने में विफल रहीं। एफआईआर में दावा किया गया कि कूड़ेदान में मिली 29 सीरिंज आधार से जुड़ी हुई थीं।अतिरिक्त महाधिवक्ता मनीष गोयल और अतिरिक्त सरकारी वकील एके राज्य सरकार की ओर से पेश सैंड ने इस आधार पर याचिका का विरोध किया कि घटना गलती या लापरवाही नहीं बल्कि आरोपी द्वारा जानबूझकर की गई कार्रवाई थी।


ये है पूरा मामला


पूरा मामला जमालपुर स्थित शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का है, जहां कोरोना की वैक्सीन लगवाने आए लोगों की जान के साथ एएनएम निहा खान खिलवाड़ कर रही थीं। एएनएम निहा खान कोविड वैक्सीन (कोवाक्सिन) से लोडेड सिरिंज को कूड़ेदान में डालने और मरीजों को खाली सिरिंज चुभाकर कोरोना संक्रमण को बढ़ावा दे रही थीं।


Also Read: बलिया: पहले महताब आलम ने फेसबुक पर शेयर की किशोरी की फोटो, फिर साथियों संग परिजनों पर किया हमला, पुलिस ने 7 लोगों को किया गिरफ्तार


एएनएम निहा खान लोगों के हाथ में सुई तो चुभाती थी, लेकिन वैक्सीन की डोज उनके शरीर में नहीं पहुंच रही थी। सुई चुभाने के बाद लोडेड सिरिंज कूड़ेदान में फेंक दे रही थीं। इस बात को लेकर जब स्टाफ ने उनसे कुछ कहा तो उन्होंने कहा कि मेरा मूड खराब है और इसके बाद वहां से हट गईं। इस तरह वहां 29 लोडेड सिरिंज कूड़ेदान में मिली थीं।


एएनएम निहा खान के साथ स्टाफ की दूसरी एएनएम अनु ने बताया कि वहां वैक्सीनेशन हो रहा था, मैं रजिस्टर पर एंट्री करवा रही थी। उस समय वह टीका लगा रही थी। इस दौरान एक पेशेंट ने उनको टोका कि आप क्या कर रही हैं। यह कैसे आप टीका लगा रहे हैं और उसने दोबारा लगवाया। मैंने देखा तो निहा से कहा कि तुम सही नहीं कर रही हो तो उसने कहा कि मुझे टेंशन है। अनु के मुताबिक, केंद्र पर 10 से 12 लोग का स्टाफ है। वहां मैं भी थी और अन्य लोग भी थे। यह तो वही जाने कि वह क्या सोचकर यह कर रही थी। जब हमने उसको इस बारे में बताया तो वह उल्टा ही हमारे ऊपर आरोप लगाने लगी।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

‘एक्ट ऑफ गॉड’ में अपने शाही खर्चों में कटौती कर बच्चों की फीस जमा करे सरकार: मायावती

Jitendra Nishad

अब PAC कर्मियों को CM योगी ने दिया दीवाली गिफ्ट, 5042 सिपाही प्रमोट होकर बने हेड कांस्टेबल

Jitendra Nishad

यूपी: डेढ़ साल बाद बहाल हुए IPS वैभव कृष्ण, जल्द मिलेगी तैनाती!

BT Bureau