Breaking Tube
Crime UP News

‘धर्मांतरण अल्लाह का काम, 1000 से ज्यादा हिंदुओं को बनाया है मुसलमान’..अपने पुराने Videos में उमर गौतम ने बताया कैसे ज़िहाद को दे रहा था अंजाम

अवैध धर्म परिवर्तन के आरोप में यूपी एटीएस (UP ATS) द्वारा ने उमर गौतम (Umar Gautam) और उसके सहयोगी मुफ्ती काजी जहांगीर कासमी को गिरफ्तार किया है. यही नहीं, इस मामले में यूपी एटीएस को दोनों की सात दिन की रिमांड भी मिल गई है. इन दोनों ने अब तक गरीब महिलाओं के साथ मूक-मधिर गरीब बच्चों और अपाहिजों को मिलाकर 1000 से ज्‍यादा लोगों का धर्मांतरण (Conversion) कराया है. एटीएस के मुताबिक, उमर और जहांगीर न सिर्फ लालच बल्कि डरा धमका कर भी धर्म परिवर्तित करवाते थे. वहीं अब उमर गौतम के कई पुराने वीडियोज सामने आए हैं जिनमें वह कबूल है कि उसकी संस्था की तरफ से 1000 लोगों को धर्मांतरण के दस्तावेज जारी किए हैं.


उमर गौतम की तरफ से यह भी दावा किया गया है कि इस्लामिक दावा सेंटर में हर महीने करीब 15 से ज्यादा लोगों के धर्मांतरण से संबंधित कागजात तैयार किए जाते हैं. इस मामले में अब उमर की तरफ से सबसे बड़ी बात सामने आई है. उसके मुताबिक इस्लामिक दावा सेंटर में पोलैंड, इंग्लैंण्ड और सिंगापुर अमेरिका तक के लोंगों का धर्मांतरण हुआ है.


कबूलनामा वीडियो में कही ये बातें

दूसरे धर्मों से इस्लाम में धर्मांतरण करने को लेकर उमर गौतम ने कहा कि इस्लाम कबूल करने से अल्लाह का काम हो रहा है. यह सभी बाते उमर गौतम के कबूल नामें का वीडियो सामने आने के बाद सामने आईं. उमर गौतम का जो वीडियो सामने आया है उसमें वह कहता दिख रहा है कि उसने गोरखपुर के यादव घराने के शख्स का धर्म परिवर्तन करा कर उसका नाम मोहम्मद उस्मान रखा. वीडियो में वह कह रहा कि हमारी कोशिश है कि जो लोग इस्लाम को कबूल करते हैं उन्हें लीगल और मोरल सपोर्ट दिया जाए.


श्याम प्रताप सिंह गौतम उर्फ मोहम्‍मद उमर गौतम (Muhammad Umar Gautam)मूल रूप से उत्‍तर प्रदेश के फतेहपुर जिला के ग्राम पंथुआ का रहने वाला है. जबकि वह जाति से क्षत्रिय है. हालांकि उसके मुसलमान बनने की कहानी खासी दिलचस्‍प है. जानकारी के मुताबिक, स्कूलिंग के बाद जब वह ग्रेजुएशन के लिए नैनीताल हॉस्टल में शिफ्ट हुआ तो उस दौरान उसके पैर में चोट लग गई थी. इस दौरान उसकी बगल वाले कमरे में रहने वाले छात्र ने मदद की थी, जो कि मुस्लिम था. वही, छात्र ही श्याम को डॉक्टर के पास ले जाया करता था और साथ ही मंदिर भी. इसके बाद श्‍याम का इस्‍लाम के प्रति झुकाव हो गया है और उसने इस्लाम की किताबें हिंदी में पढ़ी तो उस पर इसका गहरा असर हुआ. इसी वजह से उसने 1984 में अपना धर्म परिवर्तित कर लिया और श्याम प्रताप सिंह गौतम से मोहम्‍मद उमर गौतम बन गया.


Also Read: कानपुर का आदित्य गुप्ता भी बना धर्मांतरण कराने वाले गिरोह का शिकार, मुस्लिम चरमपंथियों ने बना दिया अब्दुल कादिर


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

हंसी-ठट्ठा करते हाथरस जा रहे राहुल-प्रियंका का वीडियो वायरल, BJP नेता बोले- देख लीजिए शोक मनाने निकले भाई-बहन का असली चेहरा

Jitendra Nishad

युवाओं को नहीं भा रही UP Police की नौकरी, अकेले मेरठ में 33 ने ज्वाइनिंग से पहले ही दिया त्यागपत्र, ये है वजह

Shruti Gaur

शाहीन बाग में है PFI मुख्यालय, भीड़ को हिंसक बनाने के लिए भेजी गई भड़काऊ सामग्री, यूपी पुलिस का बड़ा खुलासा

BT Bureau