मौनी अमावस्या के अवसर पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने संगम में लगायी डुबकी, रामायण की चौपाई के द्वारा बताया कुंभ का महत्व

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने मौनी अमावस्या के अवसर पर प्रयागराज कुंभ पहुंचकर संगम में डुबकी लगाई और मां गंगा से प्रदेश और देश की खुशहाली के लिए कामना भी की.



डिप्टी सीएम ने भोर बेला में ही उठकर कुंभ के विहंगम दृश्य का आनंद लिया और बोट रायडिंग का भी जमकर लुत्फ़ उठाया. इस दौरान वे मां गंगा को आचमन करना नहीं भूले. केशव प्रसाद मौर्य अपनी इस धार्मिक यात्रा को लेकर ट्वीट करते हुए लिखते हैं कि “सुबह-सुबह संगम के तट पर गंगा मैया का विहंगम दृश्य देख कर मुझे रामचरितमानस की यह चौपाई याद आ रही है: को कहि सकइ प्रयाग प्रभाऊ। कलुष पुंज कुंजर मृगराऊ॥ अस तीरथपति देखि सुहावा। सुख सागर रघुबर सुखु पावा”



केशव ने जो चौपाई अपने ट्वीट में लिखी है यह रामचरितमानस के अयोध्याकाण्ड की चौपाई है. इसका भावार्थ है कि “पापों के समूह रूपी हाथी के मारने के लिए सिंह रूप प्रयागराज का प्रभाव (महत्व-माहात्म्य) कौन कह सकता है. ऐसे सुहावने तीर्थराज का दर्शन कर सुख के समुद्र रघुकुल श्रेष्ठ श्री रामजी ने भी सुख पाया”


Also Read: ‘टेंशन फ्री’ होकर कुंभ आयें बुजुर्ग-दिव्यांग, यूपी पुलिस स्नान कराके, भोजन खिलाकर करेगी विदा


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here