मुस्लिम बाहुल्य इलाके में कांवड़ियों को जलाभिषेक से रोका गया, इलाके में तनाव बरकरार

उत्तर प्रदेश के बरेली में कांवड़ यात्रा निकालने को लेकर विवाद कम होने का नाम नहीं ले रहा है. गुरुवार (23 अगस्त) को एक बार फिर हजारों की संख्या में दोनों समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए. हालात बहुत ज्यादा तनावपूर्ण होते देख जिले की पुलिस फोर्स और पीएसी को मौके पर भेज दिया गया है.

 

Also Read: राजस्थान: कांवड़ यात्रा पर हमला, दूसरे समुदाय के लोगों ने बरसाए पत्थर-लाठियां, धारा 144 लागू

 

दरअसल सावन के आखिरी सोमवार से एक दिन पहले बिथरी चैनपुर के खजुरिया ब्रम्हनान गांव में करीब 50 कांवड़ियों का जत्था बदायूं के कछला घाट जल लेने जा रहा था. कांवड़ियों का जत्था मुस्लिम बाहुल्य गांव उमरिया होते हुए कछला जल लेने जाता है. लेकिन इस बार उमरिया गांव के लोगों ने कांवड़ यात्रा का विरोध कर दिया और सड़कों पर सैकड़ों लोग आकर जमा हो गए. जिसके बाद डीएम ने कांवड़ यात्रा पर रोक लगा दी.

 

Also Read: हरदोई: कांवड़ियों पर हमला, धर्मविशेष के युवकों ने बरसाए पत्थर-लाठियां

 

मामला सामने आने के बाद बीजेपी विधायक पप्पू भरतौल ने कांवड़ यात्रा को उमरिया गांव से निकालने की बात कही. उन्होंने कहा कि हर कीमत पर वहीं से कांवड़ निकलेगी. जिसके बाद कांवड़िये धरने पर बैठ गए और पूरा गांव छावनी में तब्दील हो गया. यहां तक कि गांव में जाने वाले हर रास्ते को पुलिस ने बन्द कर दिया.

 

Also Read: कांवड़ यात्रा पर धारदार हथियारों से हमला, दूसरे धर्म के दर्जनभर युवकों के खिलाफ केस दर्ज

 

गुरुवार (23 अगस्त) को विश्व हिंदू परिषद के जिला अध्यक्ष पवन अरोड़ा दर्जनों कार्यकर्ताओं के साथ खजुरिया गांव पहुंच गए और वहां धरना शुरू कर दिया. इस वजह से दोनों समुदाय के लोग एक बार फिर सड़कों पर आ गए. जबकि हिंदू समुदाय के लोगों का कहना है कि प्रशासन कांवड़ यात्रा को निकलने नहीं दे रहा है, जिस वजह से तनाव है.

 

Also Read: मुस्लिम युवक को कांवड़ यात्रा निकालना पड़ा भारी, मस्जिद में नहीं पढ़ने दी गयी नमाज़

 

कांवड़ियों को उमरिया गांव के मोड़ पर ही बैरिकेडिंग लगाकर रोक लिया गया. जिसके विरोध में कांवड़िये धरने पर बैठे हैं. फिलहाल बैरीकेडिंग करके गाँव की सीमाओं को सील कर दिया गया है तथा पुलिस ने पूरे गांव को छावनी में तब्दील कर दिया गया है.

 

देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंआप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here