Breaking Tube
Politics UP News

UP BJP चीफ स्वतंत्र देव सिंह से मिले ओम प्रकाश राजभर, बोले- राजनीति में कुछ भी संभव

Om Prakash Rajbhar

पूर्व मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर (Om Prakash Rajbhar) ने मंगलवार सुबह उत्तर प्रदेश भाजपा प्रमुख स्वतंत्र देव सिंह (Swatantra Dev Singh) से उनके आवास पर मुलाकात की, जिसके बाद से ही अटकलों का बाजार गर्म हो गया है। इस मुलाकात के बाद अब बीजेपी में राजभर की वापसी को लेकर अटकलें लगाई जा रही हैं।


करीब एक घंटे तक चली बैठक के बाद स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि यह सिर्फ एक शिष्टाचार मुलाकात थी, जिसमें कोई राजनीतिक एजेंडा नहीं था। उन्होंने कहा कि हम बस सौहार्दपूर्ण ढंग से मिले और बातचीत की। राजभर अन्य दलों से समर्थन हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं और ओबीसी श्रेणी के विभिन्न समूहों से समर्थन हासिल करने के लिए भागीदारी संकल्प मोर्चा का गठन किया है।


Also Read: तोड़ा जाएगा आजम खान की जौहर यूनिवर्सिटी का गेट, कोर्ट में खारिज हुई याचिका


असदुद्दीन ओवैसी के नेतृत्व वाले ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के साथ उनका गठबंधन, हालांकि, समाजवादी पार्टी के साथ उनके गठबंधन में बड़ी बाधा साबित हो रहा है। इस बीच भाजपा के सूत्रों ने कहा है कि यूपी भाजपा प्रमुख और राजभर के बीच बैठक की व्यवस्था भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष दया शंकर सिंह ने की थी।


सूत्रों ने बताया कि दया शंकर ने सोमवार देर शाम राजभर को फोन कर स्वतंत्र देव सिंह से मिलने को कहा था। राजभर ने पुष्टि की कि उन्होंने और स्वतंत्र देव सिंह ने अपने-अपने राजनीतिक दलों की गतिविधियों पर चर्चा की। यह पूछे जाने पर कि क्या वह फिर से भाजपा के साथ गठबंधन करने की योजना बना रहे हैं? इस पर राजभर ने कहा कि राजनीति में कुछ भी हो सकता है।


Also Read: आगरा: सपा सरकार के पूर्व मंत्री चौधरी बशीर ने की छठवीं शादी, बीवी ने दर्ज कराया तीन तलाक का मुकदमा


वहीं, दूसरी तरफ राजनीतिक विशेषज्ञों का कहना है कि राजभर गैर-भाजपा दलों के बीच अपनी सौदेबाजी की स्थिति को बढ़ाने के लिए शायद एक प्रकार का परीक्षण कर रहे हैं।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

लखनऊ: ड्यूटी पर तैनात महिला सिपाही से युवक ने की छेड़छाड़, विरोध करने पर बोले अपशब्द

BT Bureau

भ्रष्टाचार पर योगी का ‘जीरो टॉलरेन्स’, करप्शन के आरोपों से घिरे महोबा SP सस्पेंड

BT Bureau

चुनाव आयोग का बयान- अभी एक साथ नहीं कराए जा सकते लोकसभा-विधानसभा चुनाव

BT Bureau