सीएम योगी का बड़ा फैसला, सामूहिक विवाह योजना में अब 35 की जगह 51 हजार रुपये देगी सरकार

पूरे प्रदेश में 9 फरवरी को 10 हजार जोड़ियों के सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन होगा. सीएम योगी ने कहा कि कन्यादान एक पवित्र कार्य है. राज्य सरकार ने 2017-2018 में गरीब परिवार की कन्याओं के लिए सामूहिक विवाह योजना शुरू की थी. पहले इस योजना के तहत 35 हजार रुपये दिए जा रहे थे, लेकिन अब इसे बढ़ाकर 51 हजार रुपये कर दिया गया है. पेंशन योजना पर सीएम योगी ने कहा कि वृद्धजनों को पेंशन देने के लिए सरकार विशेष अभियान चला रही है. जिसके बाद पात्र बुजुर्गों संख्या 46 लाख हो जाएगी, जो अब तक 37 लाख है. गणतंत्र दिवस के मौके पर उन्होंने कहा कि गरीबों और वंचितों को उनका हक दिलाना संविधान की आत्मा का सम्मान है.


Image result for Group marriage scheme

Also Read: बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर सुबोध के मुख्य हत्यारोपी प्रशांत की पत्नी का बड़ा खुलासा, बोली- पुलिस वालों ने इंस्पेक्टर का फोन खुद मेरे घर पर रखा


अन्य योजनाओं के बारे में बताया

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत भी सरकार ने ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में 18 लाख गरीब परिवारों को आवास उपलब्ध कराए हैं. इसी तरह स्वच्छ भारत मिशन में 2 करोड़ 60 लाख परिवारों को शौचालय उपलब्ध कराये. सौभाग्य योजना के तहत 94 लाख परिवारों को मुफ्त बिजली कनेक्शन दिया गया है. सीएम योगी ने कहा कि तकनीक के बेहतर प्रयोग से भ्रष्टाचार को नियंत्रित किया जा सकता है और समाज कल्याण विभाग ने इस दिशा में सराहनीय काम किया है. मौजूदा वर्ष में केंद्र सरकार के सहयोग से राज्य सरकार ने सभी वर्गों के 46 लाख से अधिक विद्यार्थियों को 3300 करोड़ रुपये से भी अधिक का वितरण किया है. इस दौरान उन्होंने समाज कल्याण निदेशालय के नवनिर्मित एनेक्सी भवन का भी लोकार्पण भी किया.


Also Read: सांसद असदुद्दीन ओवैसी के बिगड़े बोल, कहा- मैं वोट नहीं काटता, तुम्हें काट दूंगा


छात्रवृत्ति स्वीकृति प्रमाण पत्र छात्रछात्राओं को दिया

इससे पहले सीएम योगी ने डॉ. शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विवि के अटल प्रेक्षागृह में समाज कल्याण विभाग की ओर से आयोजित समारोह में छात्रवृत्ति व शुल्क प्रतिपूर्ति के ऑनलाइन वितरण प्रणाली की शुरुआत की. इस मौके पर उन्होंने अपने हाथ से एक हजार छात्र छात्राओं में से तीस को छात्रवृत्ति स्वीकृति प्रमाण पत्र भी दिया.


Also Read: मुलायम को प्रधानमंत्री बनाना चाहते थे शिवपाल, अखिलेश ने मायावती को PM उम्मीदवार घोषित कर तोड़ दिया सपना


देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करेंआप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here