लखनऊ: गणतंत्र दिवस पर सुरक्षा और निगरानी में बड़ी लापरवाही, 2 दरोगा सहित 6 पुलिसकर्मी पर गिरी गाज

0
23

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के कासगंज में गणतंत्र दिवस के मौके पर सुरक्षा और निगरानी में बड़ी लापरवाही होने पर 2 दरोगा सहित 6 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है. साध्वी प्राची के शहर में प्रवेश और चन्दन गुप्ता के घर जाने के मामले में एएसपी की जांच रिपोर्ट पर एसपी ने कार्रवाई की है. बीते वर्ष गणतंत्र दिवस पर हिंसा और चंदन गुप्ता की हत्या के बाद कस्बे को संवेदनशील घोषित किया गया था. ऐसे में इस वर्ष 26 जनवरी को चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात की गई थी. इसके साथ ही सीमाओं पर विशेष निगरानी थी.


Also Read: सिर्फ हिंदू ही नहीं, मुस्लिम लड़की को भी छूने वाले के हाथ काट देने चाहिए: साध्वी निरंजन ज्योति


बाहरी नेताओं का शहर आने में था प्रतिबंध, एसपी ने की कार्रवाई

बता दें कि बाहरी नेताओं का शहर के अंदर प्रवेश करने में प्रतिबंध था, लेकिन पुलिस के कड़े सुरक्षा घेरे के बीच विश्व हिंदू परिषद की फायरब्रांड नेता साध्वी प्राची ने शहर में प्रवेश कर लिया. जानकारी पर पुलिस में खलबली मच गई. निगरानी में चूक पर पुलिसकर्मियों की लापरवाही मानी गई. एसपी अशोक कुमार शुक्ल ने एएसपी डॉ. पवित्र मोहन त्रिपाठी को जांच सौंपी. एएसपी ने जांच में पाया की गंगीरी बॉर्डर पर तैनात एसआई जुगेंद्र पाल सिंह, एचसीपी महाराज सिंह, आरक्षी सत्येंद्र एवं पुष्पेंद्र एवं मालगोदाम चौराहे पर तैनात एसआई अमर सिंह, आरक्षी मृदुल प्रताप ने सतर्कता नहीं बरती. वहीं आगरा, फिरोजाबाद, अलीगढ़ जिले के 6 पुलिसकर्मी भी जांच में लापरवाह माने गए.


चंदन के घर प्राची साध्वी

इन पुलिसकर्मियों की लापरवाही से साध्वी प्राची शहर में घुसीं. जिसके बाद माहौल गरम हो गया. एएसपी की रिपोर्ट पर एसपी ने जिले के 6 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है. वहीं, गैर जनपदों के 6 पुलिसकर्मियों की रिपोर्ट संबंधित एसपी को भेजी है. एसपी ने बड़ी कार्रवाई कर रिपोर्ट भी उच्चाधिकारियों को दे दी है.


Also Read: चंदौली: सपा नेता और उसके बेटों ने पुलिस चौकी में किया हंगामा, चौकी इंचार्ज से बदसलूकी में गिरफ्तार


साध्वी प्राची ने तोड़ा सुरक्षा घेरा

उधर साध्वी प्राची ने सुरक्षा घेरा तोड़कर शहर में प्रवेश किया जो कि पुलिस निगरानी में यह बड़ी चूक थी. एएसपी को इसकी जांच सौंपी गई थी और जांच में 12 पुलिसकर्मी लापरवाह पाए गए. इनमें से 6 कासगंज जिले के थे और उन्हें निलंबित कर दिया गया है. गैर जिलों के 6 पुलिसकर्मियों के खिलाफ रिपोर्ट भेजी गई है.


क्षेत्राधिकारियों के बदले कार्यक्षेत्र, तीसरे दिन भी रही कड़ी सुरक्षा

कानून व्यवस्था दुरुस्त बनाने और जनहित में एसपी ने क्षेत्राधिकारियों के कार्यक्षेत्र में बदलाव किया है. गवेंद्रपाल गौतम को सीओ सिटी से पटियाली, रविंद्र वर्मा को सीओ पटियाली से सीओ सहावर, आईपी सिंह को सीओ सहावर से सीओ सिटी बनाया गया है. वहीं एसपी ने एसआई शिवम तोमर को नदरई गेट चौकी से सहावर थाने और एसआई कुलदीप शर्मा को सहावर से नदरई गेट चौकी पर तैनात किया गया है. गणतंत्र दिवस पर शहर की संवेदनशीलता के मद्देनजर पुलिस सतर्क रही. इसके बाद भी पुलिस ने सुरक्षा का घेरा पूरी तरह नहीं हटाया. मुख्य चौराहों एवं बैरियरों पर सुरक्षा और शांति के उद्देश्य से पुलिसबल तैनात रहा. बाजारों में भी बनाए गए प्वाइंट पर पुलिस के जवान मुस्तैद हरे. हालांकि अर्धसैनिक बल के जवान लौट गए.


Also Read: बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर सुबोध के मुख्य हत्यारोपी प्रशांत की पत्नी का बड़ा खुलासा, बोली- पुलिस वालों ने इंस्पेक्टर का फोन खुद मेरे घर पर रखा


देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करेंआप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here