Breaking Tube
Business Government

आर्थिक मोर्चे पर चीन को सबक सिखाने की तैयारी, मोदी सरकार ने रद्द किया 2,900 करोड़ का टेंडर

केंद्र सरकार ने गंगा नदी पर बने महात्मा गांधी सेतु के समानांतर बनाये जाने वाले महासेतु की परियोजना (Mahasetu Project) से जुड़ी निविदा रद्द कर दी है. इस परियोजना में चीन (China) कंपनियां शामिल थीं. बिहार सरकार के शीर्ष आधिकारिक सूत्रों ने रविवार को मीडिया को बताया कि केंद्र ने निविदा रद्द कर दी क्योंकि परियोजना के लिए चुने गए चार में से दो ठेकेदार चीनी कंपनियां थीं.


पूरी परियोजना पर 2,900 करोड़ रुपये का पूंजीगत खर्च आने का अनुमान है. इसमें 5.6 किलोमीटर लंबा मुख्य पुल, अन्य छोटे पुले, अंडरपास और रेल उपरगामी पुल शामिल हैं. ऐसा माना जा रहा है कि यह निर्णय भारत-चीन के बीच चल रहे विवाद एवं 15 जून को पूर्वी लद्दाख के गालवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ झड़प में 20 भारतीय जवानों के शहीद होने की पृष्ठभूमि में लिया गया है. चीन के साथ सीमा पर होने वाली झड़पों के मद्देनजर चीनी उत्पादों और व्यावसायिक संस्थाओं के बहिष्कार के लिए देशव्यापी आह्वान के बीच कई चीनी परियोजनाओं और निविदाओं को रद्द किया गया है.


उल्लेखनीय है कि 16 दिसंबर, 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों पर केंद्र सरकार की कैबिनेट समिति ने इस महासेतु परियोजना को मंजूरी दी थी. अधिकारियों ने बताया कि प्रस्तावित महासेतु को गंगा नदी पर महात्मा गांधी सेतु के समानांतर बनाया जाना है जिससे पटना, सारण और वैशाली जिलों को सहूलियत होगी.


उन्होंने बताया कि योजना के मुताबिक मुख्य सेतु के साथ चार अंडर पास, एक रेल उपरगामी पुल, 1.58 मार्ग सेतु, फ्लाईओवर, चार छोटे पुल, पांच बस पड़ाव और 13 रोड जंक्शन का निर्माण किया जाना है. परियोजना के लिए निर्माण की अवधि साढ़े तीन साल की थी और जनवरी 2023 तक पूरी होने वाली थी.


Also Read: Tik Tok सालों से कर रहा था लाखों यूज़र्स की जासूसी, Apple के एक अपडेट में हुआ खुलासा


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

होली पर घर जाना हो सकता है मुश्किल, ये Trains हुईं कैंसिल, कहीं आपकी ट्रेन तो शामिल नहीं

Satya Prakash

योगी सरकार के दौरान UP में गिरा अपराध का ग्राफ, आंकड़ों में आई कमी

Praveen Bajpai

PAK मीडिया भी हुआ योगी का कायल, कहा- कोरोना पर कैसे लगाएं लगाम यह UP से सीखे पाकिस्तान

BT Bureau