Breaking Tube
Crime Politics UP News

मुरादाबाद: रोहिंग्या मुसलमानों से रिश्वत लेकर BLO ने बना दिए वोटर कार्ड, ग्राम प्रधान ने वोट बढ़ाने के लिए बनाए फर्जी कागजात

Moradabad rohingya muslims voter card

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद (Moradabad) जनपद में रोहिंग्या मुसलमानों (Rohingya Muslims) के वोट (Voter Card) बनाने का मामला सामने आया है। यहां भगतपुर टांडा ब्लॉक में रुस्तमपुर तिगरी गांव में 16 रोहिंग्या के वोट बनाने में सहायक अध्यापक को निलंबित कर दिया गया है। मामले को लेकर गांव के लोगों ने शिकायत की थी कि सहायक अध्यापक ने नियमों को ताक रखा और रिश्वत लेकर विधानसभा क्षेत्र की लिस्ट में रोहिंग्या मुसलमानों के नाम शामिल किए और ग्राम प्रधान में फर्जी कागजात बनाए। ऐसे में जब एसडीएम ने तहसील टीम से जांच कराई तो मामला सही पाया गया। इसके बाद बीएसए ने बीएलओ सहायक अध्यापक को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया।


बीएसए योगेंद्र सिंह ने बताया कि मुख्य विकास अधिकारी के पत्र के मुताबिक, नाजिर और पीरबख्श निवासी रुस्तमपुर तिगरी ने शिकायत की थी कि वर्मा से आए रोहिंग्या मुसलमानों से रिश्वत लेकर बीएलओ प्रशांत कुमार ने वोट बना दिए। विधानसभा मतदाता सूची में इन्हे शामिल किया गया है। शिकायतकर्ताओं ने यह भी आरोप लगाया था कि ग्राम प्रधान ने अपने वोट बढ़ाने के चक्कर में फर्जी डॉक्यूमेंट्स जारी किए।


Also Read: लव जिहाद: धर्म छिपाकर युवती को फंसाया, 5 साल किया शारीरिक शोषण, शादी के बाद पीड़िता को जबरन उठा लाया फिर 12 दिन नोंचा शरीर, हवस में हैवान बना मुन्ना खान


29 जनवरी की शिकायत पर 1 फरवरी को इस मामले की जांच आख्या उप जिलाधिकारी सदर मुरादाबाद के आधार पर एक्शन लिया गया। एसडीएम ने मुरादाबाद ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में पड़ने वाले रुस्तमपुर तिगरी में तहसील स्टाफ से जांच करवाई। इसमें पाया गया कि प्राइमरी स्कूल रुस्तमपुर तिगरी भाग संख्या 105 पर सोलह आवेदन प्राप्त हुए। जिसमें बीएलओ ने अपनी रिपोर्ट लगाते हुए लिखा था कि दावा सत्य है वोट बनाने योग्य हैं।


इसी आख्या पर वोटर लिस्ट क्रामांक पर 794 से 809 तक सोलह वोट बढ़ा दिए गए। उक्त बढ़ाए गए वोटरों के संबंध में शिकायतकर्ता की शिकायत को सही पाया गया। बीएलओ द्वारा ड्यूटी में लापरवाही बरतना और निर्देशों का पालन नहीं करना पाया गया। बीएसए योगेंद्र कुमार ने तहसील की आख्या पर सहायक अध्यापक प्रशांत कुमार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। साथ ही कहा गया है कि सहायक अध्यापक ब्लाक संसाधन केंद्र ठाकुरद्वारा में अटैच रहेंगे और बिना आज्ञा मुख्यालय नहीं छोड़ेंगे।


Also Read: कानपुर: दलित युवती को फंसाने के लिए मो. आरिफ बन गया राजवीर, शादी का झांसा देकर करता रहा दुष्कर्म


मामले में एसडीएम सदर मुरादाबाद प्रेरणा सिंह ने बताया कि फर्जी वोट बनाने की जांच तहसील स्टाफ के माध्यम से करवाई गई, जिसमें आरोप सही पाए गए। इसी आधार पर बीएसए दफ्तर को आख्या भेजी गई। बीएसए ने इसी आधार पर संबंधित के विरुद्ध एक्शन लिया है। वहीं, बीएसए मुरादाबाद योगेंद्र कुमार ने बताया कि एसडीएम सदर के यहां से जांच के बाद संबंधित रुस्तमरुप तिगरी प्राइमरी विद्यालय के सहयाक अध्यापक को निलंबित किया गया है। उनको ब्लाक संसाधन केंद्र ठाकुरद्वारा से अटैच कर दिया गया है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

थरूर के बाद अब राज बब्बर ने किया सीएम योगी पर हमला, बोलें- ‘राम तेरी गंगा मैली हो गई…

admin

DGP से बहादुरी के लिए सम्मानित सिपाही को इंस्पेक्टर और उसके गुर्गों ने बुरी तरह पीटा, रायफल छीनकर जान से मारने की कोशिश

Jitendra Nishad

शामली: ट्रेन से कटकर दारोगा की मौत, महकमे में हड़कंप

Shruti Gaur