Home Crime भदोही: बेटे की निशानदेही पर पूर्व विधायक विजय मिश्रा के पेट्रोल पंप...

भदोही: बेटे की निशानदेही पर पूर्व विधायक विजय मिश्रा के पेट्रोल पंप से AK-47 समेत कई असलहे बरामद

उत्तर प्रदेश के भदोही जिला जेल में बंद पूर्व विधायक विजय मिश्रा (Bhadohi former MLA Vijay Mishra) के पेट्रोल पंप से एके 47 मिलने की खबर से प्रशासन में खलबली मच गई है. पूर्व विधायक विजय मिश्र के बेटे विष्णु मिश्रा (Vishnu Mishra) को गुरुवार को पुलिस ने कोर्ट रिमांड पर लिया था. सुबह 10 बजे से शुरू हुई कस्टडी रिमांड तीन बजे तक निर्धारित है. इस दौरान पुलिस ने उससे पूछताछ करने के साथ ही उसे कुछ संदिग्ध स्थानों पर ले जाकर जांच भी की है. विष्णु की निशानदेही पर अमवा स्थित बंद पड़े एक पेट्रोल पंप से एक एके-47, एक अत्याधुनिक पिस्टल व 450 से अधिक कारतूस बरामद किए गए हैं.

आपको बता दें कि रिमांड लेकर पुलिस आज विष्णु मिश्रा से पूछताछ कर रही थी. भदोही जनपद की ज्ञानपुर विधानसभा सीट से पूर्व विधायक रहे विजय मिश्रा वर्तमान में जेल में बंद हैं. उनके बेटे विष्णु मिश्रा को जिस पर एक लाख का इनाम घोषित था. जिसे एसटीएफ ने बीते दिनों पुणे से गिरफ्तार किया था. कोर्ट में पेश करने के बाद विष्णु मिश्रा को भदोही जिला कारागार में निरुद्ध किया गया था. पुलिस ने विष्णु मिश्रा की रिमांड लेकर आज उससे पूछताछ की है.

भदोही जनपद के पुलिस अधीक्षक डॉ. अनिल कुमार का दावा है कि विष्णु मिश्रा की निशानदेही पर पूर्व विधायक विजय मिश्रा द्वारा संचालित एक पेट्रोल पंप से असलहों का जखीरा बरामद किया गया है. आपको बता दें कि विष्णु मिश्रा पर विभिन्न थानों में 8 मुकदमे दर्ज हैं. वहीं, पूर्व विधायक के बेटे विष्णु मिश्र के ठिकाने से असलहे बरामद होने के मामला पर विष्णु मिश्र की बहन रीमा पांडेय ने सीबीआई जांच की मांग की है. उन्होंने कहा कि उनके भाई और पिता को गलत तरह से फंसाया जा रहा है.

गौरतलब है कि विष्णु मिश्रा पर गोपीगंज कोतवाली में प्रॉपर्टी हड़पने के मामले में रिश्तेदार ने मुकदमा दर्ज कराया था. वहीं वाराणसी की रहने वाली एक सिंगर ने सामूहिक दुष्कर्म के मामले में मुकदमा दर्ज कराया था. इन मामलों में पूर्व विधायक का बेटा काफी समय से फरार चल रहा था, जिसको एसटीएफ ने गिरफ्तार किया था. जिसके बाद उसको एसटीएफ बुधवार रात को भदोही लेकर पहुंच गई. एसटीएफ ने एक लाख के इनामी विष्णु मिश्रा को पुणे से गिरफ्तार किया था. ट्रांजिट रिमांड लेने के बाद कड़ी सुरक्षा के बीच विष्णु मिश्रा को पुलिस गोपीगंज थाना लेकर गई.

Also Read: आजमगढ़ को CM योगी ने दिया 143 करोड़ का रिटर्न गिफ्ट, पैरामेडिकल कॉलेज व शोध पीठ की होगी स्थापना

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Secured By miniOrange