Breaking Tube
Fitness Lifestyle

शरीर की अंदरूनी ताकत के लिए बहुत लाभकारी है ये चीज़, अगर नहीं खाया तो हो सकता है पछतावा

लाइफस्टाइल: अगर आपकी सेहत अच्छी है तो आपका मन और शरीर दोनों ही किसी भी काम को करने में सक्षम रहता है. हर कोई चाहता है कि वो किसी भी बीमारी से दूर रहे और उसका वैवाहिक जीवन भी काफी सुखद रहे. तो आइये आपको बताते हैं कुछ इसी तरह के उपाय जिन्हें अपनाकर आप खुशहाल जीवन जी सकते हैं-


नवंबर के शुरुआत में ही सर्दियाँ दस्तक दे देती हैं, सर्दियों में आंखें, पेट, हृदय, किडनी और दिमाग की स्वास्थ्य रखने के लिए आंवले का प्रयोग बहुत अच्छा होता है. इसमें विटामिन-सी, अमीनो एसिड, एंटीऑक्सीडेंट और कई अन्य तत्व होते हैं. लड्डू, जैम , अचार, मुरब्बा के रूप में आवंला खाने पर कफ, पित्त और आत संतुलित रहता है. चलिए बताते हैं आपको इसके बनाने की विधि.


Image result for anwale ka laddu

Image result for anwale ka laddu

आंवले का लड्डू बनाने की विधि-

आंवला लड्डू बनाने के लिए आपको एक किलो कद्दूकस किया हुआ आंवला, साइट्रिक एसिड दो ग्राम, पिसी इलायची 5 ग्राम, चीनी ½ किलो, नारियल बुरादा 100 ग्राम. सामान आपको चाहिए.इसके बाद आप आंवले को कद्दूकस कर उबलते हुए पानी में डालकर एक मिनट तक डाल दें. अच्छे से निचोड़कर उसमें चीनी और साइट्रिक एसिड मिलाएं.


एक स्टील के भारी तले वाले बर्तन में धीमी आंच पर इसे तब तक पकाएं जब तक कि यब लड्डू जैसा बंधने की स्थिति में न आ जाए. इसके बाद जब ये ठंडा हो जाए तो आप इसमें इलायची पाउडर मिलाकर लड्डू बनाएं और नारियल का बुरादा लपेटकर रख दें. इसको आपको सर्दिओं में एक महीने तक रख सकते हैं. इसको चाहें तो आप बिना बुरादे के भी बना सकते हैं.


Also Read:सर्दियों में भी पीते रहें बराबर पानी, वरना झेलनी पड़ सकती हैं यह समस्याएं


Also Read: गर्म पानी का सेवन वजन कम करने के साथ इन बीमारियों में भी है रामबाण, फायदे जानकर रह जायेंगे हैरान


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

अगर आप भी हैं बालों की झड़ती समस्या से परेशान, तो इस तरह करें भिंडी का इस्तेमाल, फायदे देखकर हैरान हो जाएंगे

Satya Prakash

महिला दिवस पर जानें भारतीय संविधान से महिलाओं को मिले कौन से अधिकार

Satya Prakash

यहाँ नौकरी करने के लिए उतारने पड़ते हैं कपड़े, जानिए पूरा मामला

Satya Prakash