Breaking Tube
Government UP News

माफियाओं और गैंगस्टर्स के बाद अब भ्रष्ट अफसरों-कर्मचारियों के खिलाफ योगी सरकार ने छेड़ा अभियान, इन नंबरों पर करें शिकायत

Yogi government

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi government) ने महिलाओं और बच्चों की सुरक्षा के लिए विशेष अभियान मिशन शक्ति की तरह ही भ्रष्टाचार पर नकेल कसने की भी शुरुआत कर दी है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने जीरो टॉलरेंस की नीति के तहत भ्रष्ट अफसरों और कर्मियों के खिलाफ अभियान के तहत कार्रवाई के कड़े निर्देश दिए हैं।


जानकारी के मुताबिक, सतर्कता जागरुकता सप्ताह के तहत 2 नवंबर तक भ्रष्टाचार की शिकायतों पर विजिलेंस विभाग अभियान के तहत कार्रवाई करेगा। भ्रष्ट अधिकारियों और कर्मियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने के लिए हेल्प लाइन नंबर भी जारी किए गए हैं।


Also Read: योगी सरकार ने 5 करोड़ तक टर्न ओवर करने वाले कारोबारियों को दी बड़ी राहत, अब इस तारीख तक दाखिल कर सकेंगे GST रिटर्न


भ्रष्टाचार के मामलों की शिकायत सतर्कता विभाग के हेल्प लाइन नंबर 9454401866 और कंट्रोल रूम के नंबर 0522-2304937 पर दर्ज कराई जा सकती हैं। बता दें कि भ्रष्टाचार पर अंकुश के लिए अलग-अलग विभागों के 325 अफसर व कर्मियों को जबरन रिटायर किया जा चुका है। इसके साथ 450 अधिकारियों और कर्मचारियों पर निलंबन और डिमोशन की कार्रवाई की गई है।


बीते वर्ष नवंबर में योगी आदित्यनाथ ने भ्रष्टाचार पर कड़ा प्रहार करते हुए प्रांतीय पुलिस सेवा (पीपीएस) अधिकारियों पर बड़ी कार्रवाई करते हुए प्रांतीय पुलिस सेवा (पीपीएस) के सात अधिकारियों को अनिवार्य सेवानिवृत्त थी।


Also Read: UP में टॉप-20 यूरिया खरीददारों की हर महीने होगी जांच, योगी सरकार ने जारी किया आदेश


भ्रष्टाचार में लिप्त अफसरों और कर्मचारियों की पहचान के लिए बनी विभागों की स्क्रीनिंग कमेटी ने भ्रष्टाचार और अक्षमता के आरोपों के आधार पर इन अफसरों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति देने की संस्तुति की थी। यूपी में यह पहला मौका था जब इतनी बड़ी संख्या में एक साथ पुलिस अधिकारियों को जबरन रिटायर किया गया हो।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

मुजफ्फरनगर दंगा: अखिलेश सरकार में हिंदुओं पर लादे गए थे 40 फर्जी मुक़दमे, कोर्ट में मिला इंसाफ, सभी बरी

BT Bureau

वाराणसी: यहां चौकी इंचार्ज लगाते हैं अनोखी पाठशाला, बच्चों को पढ़ाई जाती हैं शहीदों की वीरगाथा

Shruti Gaur

UP में तय हुई शराब खरीद की लिमिट, एक बार में ले सकेंगे सिर्फ इतनी ही बोतल

BT Bureau