Home Education कानपुर: प्राइवेट स्कूल में हिंदू बच्चों को जबरन पढ़ाया जा रहा ‘कलमा’,...

कानपुर: प्राइवेट स्कूल में हिंदू बच्चों को जबरन पढ़ाया जा रहा ‘कलमा’, Video वायरल होने पर सामने आई सच्चाई

Kanpur Florets International School

कानपुर (Kanpur) के सीतामऊ थाना क्षेत्र के पी रोड स्थित फ्लोरेट्स इंटरनेशनल स्कूल (Florets International School) में हिंदू छात्र-छात्राओं को कलमा (Kalma) पढ़ाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में दो महिलाएं के साथ स्कूल की एक बच्ची नजर आ रही है और महिलाएं कलमा पढ़ने का विरोध की बात कर रही हैं। मामला शिक्षा विभाग का होने की वजह से पुलिस ने डीएम को रिपोर्ट करते हुए जांच शुरू कर दी है। वहीं, डीएम ने भी मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं।

ट्विटर पर मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथ, यूपी पुलिस और कमिश्नरेट पुलिस को टैग करते हुए यह वीडियो शेयर किया गया है। इस वीडियो में एक महिला और उसकी बेटी दिखाई पड़ रही हैं। हालांकि वीडियो बनाने वाले ने दोनों के चेहरे नहीं लिए हैं।

महिला कह रही है कि स्कूल में बच्चों को रोजाना प्रार्थना के समय कलमा पढ़ाया जाता है। महिला ने बच्ची से पूछा तो उसने कहा कि रोज पढ़ाया जाता है। इस दौरान कुछ और महिलाओं की आवाजें भी सुनाई दे रहीं हैं, जो कि हिंदू बच्चों को कलमा पढ़ाने का विरोध कर रही हैं। 59 सेकेंड का यह वीडियो तेजी के साथ वायरल हुआ, जिसके बाद पुलिस ने जांच शुरू कर दी।

चूंकि स्कूल का संचालन बीएसएस के हाथों है और शिक्षा विभाग जिला प्रशासन का अंग हैं, इसलिए पुलिस ने डीएम को भी रिपोर्ट भेज दी है। मामले में देर रात एसीपी सीसामऊ निशांक शर्मा ने बताया कि उनकी स्कूल के मैनेजर सुमित मखीजा से बात हो गई है।

स्कूल मैनेजर ने उन्हें बताया है कि उनके स्कूल में हिंदू, मुस्लिम, सिख और इसाई चारों धर्मों की प्रार्थना 12-13 सालों से की जा रही है। कभी किसी ने विरोध नहीं किया। चार दिनों पहले एक अभिभावक की ओर से इसे लेकर आपत्ति जताई गई थी। अभिभावक की आपत्ति के मद्देनजर उन्होंने पूर्व में ही यह आदेश कर दिया है कि अब कोई धार्मिक प्रार्थना नहीं कराई जाएगी। सोमवार से स्कूल में केवल राष्ट्रगान होगा।

वहीं मामले में जिलाधिकारी विशाख जी का कहना है कि पुलिस की जांच रिपोर्ट के आधार पर मामले में जांच का आदेश दिया गया है। सोमवार को स्कूल खुलने के बाद स्कूल प्रबंधन, छात्र-छात्राओं, अभिभावकों आदि से बात कर मामले की जांच की जाएगी।

INPUT- Prabhakar Srivastava

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Secured By miniOrange