Breaking Tube
Politics

कमलनाथ के आइटम-जलेबी कहने पर फूट-फूट कर रो पड़ीं बीजेपी की दलित प्रत्याशी

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) के आइटम वाले बयान पर मध्य प्रदेश में सियासी बवाल मचा हुआ है. एक चुनावी सभा में कमलनाथ ने भाजपा प्रत्याशी इमरती देवी (Imrati Devi) को आइटम कह दिया. ‘आइटम’ कहे जाने पर मध्य प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी सोमवार को फूट-फूट कर रोईं. उनके रोने का वीडियो स्थानीय टेलीविजन चैनलों पर दिखाई देने के साथ ही सोशल मीडिया पर भी वायरल हो गया है.


इस बीच इमरती देवी ने भी कमलनाथ पर पलटवार करते हुए उन्हें कलंकनाथ बता दिया. इमरती देवी ने कहा कि वो कमलनाथ को बड़ा भाई मानती थीं. लेकिन जब कमलनाथ सीएम बने थे तो मेरी खूब बेइज्जती की थी. इमरती देवी ने आरोप लगाया कि सीएम रहते हुए कमलनाथ ने राज्य का कोई विकास नहीं किया. वह सिर्फ छिंदवाड़ा के सीएम बनकर रह गये थे. जब हम लोग उनके पास जाते तो फटकार लगाकर भगा देते थे. इमरती देवी ने पलटवार करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद कमलनाथ पागल हो गये हैं. और पागल बनकर पूरे प्रदेश में घूम रहे हैं. वो कमलनाथ को राक्षस मानती हैं.


कमलनाथ ने दी ये सफाई

इस बीच पूर्व सीएम कमलनाथ ने अपने बयान को लेकर सफाई दी है. एक निजी चैनल से बातचीत के दौरान कमलनाथ ने कहा कि उन्होंने दुर्भावनावश किसी के लिए ‘आइटम’ शब्द का इस्तेमाल नहीं किया था. उन्होंने कहा कि सभा के दौरान उनके सामने रखी लिस्ट में आइटम नंबर 1, 2… जैसा कुछ लिखा था. भाषण देते समय बीजेपी की नेता का नाम याद नहीं आ रहा था, इसलिए उन्होंने आइटम बोल दिया.


दरअसल, रविवार को पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ डबरा में कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे के समर्थन में जनसभा को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने डबरा से बीजेपी की प्रत्याशी इमरती देवी पर तंज कसते हुए कहा कि आप तो उससे मुझसे ज्यादा पहचानते हैं, आपको मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था. कमलनाथ ने कहा कि सुरेश राजेश जी हमारे उम्मीदवार हैं, सरल स्वभाव के सीधे-साधे हैं. ये तो करेंगे, ये उसके जैसे नहीं हैं, क्या है उसका नाम…. ( लोग चिल्लाते हैं- इमरती देवी), मैं क्या उसका नाम लूं, आप तो उसको मेरे से ज्यादा पहचानते हैं. आपको तो पहले ही मुझे सावधान कर देना चाहिए था, ये क्या आइटम है…ये क्या आइटम है (हंसते हुए).



Also Read: बाहुबली हरिशंकर तिवारी के बेटे BSP विधायक विनय शंकर तिवारी पर CBI का शिकंजा, 754 करोड़ रुपये की बैंक धोखाधड़ी का मामला


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

कानपुर: कर्मचारियों ने मंत्री सत्यदेव पचौरी को बनाया बंधक, निरीक्षण करने पहुंचे थे मंत्री

BT Bureau

Bihar Exit Polls: महगठबंधन को बड़ी बढ़त, CM के लिए तेजस्वी पहली पसंद

BT Bureau

कांग्रेस के मंत्री, विधायकों ने याकूब आंतकी मेमन की सजा माफ कराने के लिए राष्ट्रपति को लिखी थी चिट्ठी, मचा बवाल

BT Bureau