समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के बैनर से मुलायम गायब, शिवपाल समर्थकों ने बताया ‘बिना पेंदी का लोटा’

इटावाः समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने जब से दिल्ली में आयोजित साइकिल यात्रा के समापन कार्यक्रम में अखिलेश के साथ मंच साझा कर 2019 फतह का आशीर्वाद दिया तभी से से शिवपाल सिंह और उनके समर्थक मुलायम सिंह से नाराज चल रहे हैं.

 

यह नाराजगी सेक्युलर मोर्चा द्वारा लगाए गए पोस्टरों/बैनरों से निकल सामने आई है. दरअसल सपा के गढ़ इटावा में समाजवादी सेकुलर मोर्चा की ओर से बैनर और पोस्टर लगाए गए हैं जिनमें मुलायम सिंह यादव की तस्वीर गायब है.

 

Also Read: महिलाओं पर सवाल करके बुरे फंसे मुलायम, अखिलेश ने दिया करारा जवाब

 

वहीं इस मामले पर समाजवादी सेक्युलर मोर्चा समर्थक रोली यादव का कहना है कि मुलायम सिंह यादव पुत्र मोह में सारी दुनिया भूल चुके हैं. मुलायम सिंह यादव की स्थिति बिना पेंदी के लोटा की तरह हो चुकी है. एक ओर मुलायम सिंह यादव शिवपाल से नई पार्टी बनाने के लिए कहते हैं और दूसरी ओर मुलायम सिंह यादव पुत्र मोह में अखिलेश के साथ खड़े हुए दिखाई पड़ते हैं. मुलायम सिंह यादव दो नाव की सवारी करना चाहते हैं. मुलायम सिंह यादव को ऐसा नहीं करना चहिये. मुलायम सिंह यादव ने पुत्र मोह में शिवपाल का साथ छोड़ दिया और अपने बेटे के सामने समर्पण कर दिया है.

 

Also Read: शिवपाल का अखिलेश पर इशारों-इशारों में हमला, काम से बड़ा होता है इंसान पद से नहीं

 

बता दें कि समाजवादी सेक्युलर मोर्चा का गठन करने वाले शिवपाल सिंह यादव की पार्टी के झंडे में एक तरफ उनकी तस्वीर है, तो दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव की तस्वीर है. शिवपाल यादव ने यह भी घोषणा की थी कि मुलायम सिंह उनके बैनर तले मैनपुरी से चुनाव लड़ेंगे. हालांकि सपा इस सीट से उनकी उम्‍मीदवारी का बहुत पहले ही ऐलान कर चुकी है. उन्होंने कहा था,”मैंने नेताजी को मोर्चे का अध्यक्ष बनने के लिए ऑफर दिया है. मैंने उनसे आदेश और आशीर्वाद लेने के बाद ही समाजवादी सेक्युलर मोर्चे का गठन किया था.”

 

Also Read: अखिलेश पर ‘मुलायम’ दिखे नेताजी, मंच साझा कर बढ़ाई शिवपाल की मुश्किलें

 

देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंआप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here