Breaking Tube
Police & Forces

यूपी पुलिस स्मृति दिवस: कानपुर में शहीद पुलिसकर्मियों के परिजनों को CM योगी करेंगे सम्मानित

बीते दो जुलाई को कानपुर के बिकरू गांव में दुर्दांत अपराधी विकास दुबे और उसके साथियों ने मिलकर 8 पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी। इन्हीं शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि देने के लिए सीएम योगी 21 अक्टूबर को पुलिस लाइन में होने वाले कार्यक्रम में सम्मिलित होंगे। दरअसल, कल यानी कि 21 अक्टूबर को पुलिस स्मृति दिवस है, पुलिस ने शोक परेड की तैयारियां शुरू कर दी हैं।


सीएम देंगे श्रद्धांजलि

जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 21 अक्तूबर को पुलिस स्मृति दिवस पर रिजर्व पुलिस लाइंस लखनऊ में होने वाली शोक परेड में शामिल होंगे। वह कानपुर के बिकरू कांड में शहीद होने वाले सभी आठ पुलिसकर्मियों के परिवारों को सम्मानित करेंगे। साथ ही एक अन्य पुलिस कर्मी का परिवार सम्मानित किया जाएगा। इसके लिए पुलिस लाइन में तैयारियां भी शुरू कर दी गईं है।


Also Read: बलरामपुर: ‘मिशन शक्ति’ अभियान का शुभारंभ, CM योगी बोले- जिसने भी बेटियों पर बुरी नजर डाली उसकी दुर्गति तय


पुलिस स्मृति दिवस के दिन पुलिस लाइन में हर विभाग फुल ड्रेस में परेड करेगा। इसमें नागरिक पुलिस, पीएसी, महिला पुलिस, जीआरपी, फायर सर्विस, यातायात पुलिस, एटीएस, आरआरएफ एवं एसडीआरएफ की टीमें शामिल होंगी। इस परेड के लिए एक दिन पहले डीजीपी ने इसकी रिहर्सल भी देखी। रिहर्सल में जो भी कमियां थीं उनके बारे में भी बताया गया।


डीजीपी ने बताया ये

जानकारी देते हुए डीजीपी ने बताया कि पहली सितंबर 2019 से 31 अगस्त 2020 तक की अवधि में पूरे देश में 264 पुलिसजनों ने कर्तव्य की बेदी पर अपने जीवन की आहूतियां दीं। इसमें यूपी के नौ पुलिसजन शामिल हैं। पुलिस स्मृति दिवस पर इन सभी नौ पुलिसकर्मियों के परिवारों को सम्मानित किया जाएगा। इनमें शहीद डीएसपी देवेन्द्र मिश्रा, एसआई अनूप कुमार सिंह, महेश कुमार यादव व नेबूलाल तथा कांस्टेबल जितेन्द्र कुमार पाल, सुल्तान सिंह, राहुल कुमार और बबलू कुमार का परिवार भी शामिल होगा।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

डीजीपी ओपी सिंह के पुलिस प्रशासन में नहीं बचा अनुशासन, बगावत पर उतरी यूपी पुलिस

Jitendra Nishad

फतेहपुर: लॉकडाउन में ड्यूटी पर निकले दारोगा-सिपाही यमुना में डूबे, तलाश में जुटी NDRF

Shruti Gaur

महिला ने देर रात डायल किया 112, बोली- यूपी पुलिस वाले भईया मुझे एमपी छोड़ आओ

Shruti Gaur