टीम में जगह नहीं मिली तो छलका अश्विन का दर्द, बोले- मुझे टीम की जरूरत के कारण बाहर किया गया

लम्बे समय से भारतीय वनडे टीम से बाहर चले रहे स्पिनर रविचंद्रन अश्विन का दर्द आखिकार बाहर आ गया है. मीडिया से बात करते हुए आर अश्विन ने कहा, कि मुझे टीम की जरुरत के कारण बाहर किया गया है. अश्विन ने कहा कि एकदिवसीय क्रिकेट को लेकर उनके बारे में एक राय बन गई है कि वो बस एक ही प्रारूप के गेंदबाज है जो समझ से परे है. गौरतलब है कि इस विषय पर इससे पहले तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने भी यही कहा था कि अश्विन को बस टेस्ट क्रिकेट का गेंदबाज समझा जा रहा है.


बता दें कि अश्विन आखरी बार 2017 के वेस्टइंडीज दौरे पर वनडे टीम का हिस्सा थे, उसके बाद उन्हें वनडे टीम में जगह नहीं मिली. टीम प्रबंध को लगता है कि वर्तमान समय में कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल जैसे कलाई के स्पिनर बेहतर विकल्प हैं. गौरतलब है कि रवि शास्त्री और विराट कोहली ने भी इन दोनों की स्पिन जोड़ी की जमकर तारीफ की है.


Also Read: मोहम्मद शमी के खिलाफ चार्जशीट के बाद पत्नी हसीन जहां बोलीं- विश्वकप से बाहर हों शमी


अश्विन ने याद दिलाया अपना आखिरी वनडे मैच


अश्विन से जब एकदिवसीय प्रारूप के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं पता, यह एक राय बन गई है. मैं इसके लिए उपयुक्त हूं. सफेद गेंद (एकदिवसीय) के प्रारूप में मेरा रिकॉर्ड उतना बुरा नहीं है. यह सिर्फ सोच की बात है कि आधुनिक दौर के क्रिकेट में कलाई के स्पिनर बेहतर हैं इसलिए मैं बाहर हूं.’ अश्विन ने याद दिलाया की उन्होंने 30 जून 2017 को वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए अपने आखिरी एकदिवसीय में 28 रन देकर तीन विकेट लिए थे. मैं जब भी अपने करियर का देखूंगा तो यह कहूंगा कि मैं अपने प्रदर्शन के कारण नहीं बल्कि टीम की जरूरत के कारण बाहर किया गया.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here