Home Crime प्रयागराज : पुलिसकर्मियों को ‘काफिर’ बताकर कराया था हमला, अब गिरफ्तार हुआ...

प्रयागराज : पुलिसकर्मियों को ‘काफिर’ बताकर कराया था हमला, अब गिरफ्तार हुआ अटाला मस्जिद का इमाम अली अहमद

प्रयागराज हिंसा के बाद पुलिस की जांच में लगातार बड़े बड़े खुलासे हो रहे हैं. शुक्रवार की शाम से ही यूपी पुलिस उन सभी पर कार्रवाई कर रही है, जिन्होने हिंसा का पूरा प्लान बनाया. बुलडोजर चलाकर इन उपद्रवियों की संपत्ति मिट्टी में मिला दी जा रही है. हिंसा के मामले में इमाम अली अहमद को भी पुलिस ने नामजद किया था. जिसके क्रम में आज पुलिस ने अटाला बड़ी मस्जिद के इमाम अली अहमद को भी गिरफ्तार कर लिया है. आरोप है कि, अली अहमद ने ही पुलिसकर्मियों को काफिर कहते हुए लड़कों को भड़काया था. जिसके बाद पथराव और आगजनी हुई थी.

पुलिसकर्मियों को काफिर कह कर करवाया था हमला

जानकारी के मुताबिक, प्रयागराज हिंसा मामले में पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. दरअसल, आज प्रयागराज पुलिस ने अटाला बड़ी मस्जिद के इमाम अली अहमद को भी गिरफ्तार कर लिया है. खबरों की माने तो अली अहमद ने ही पुलिसकर्मियों को काफिर कहते हुए लड़कों को भड़काया था. जिसके बाद पथराव और आगजनी हुई थी. अटाला मस्जिद के इमाम का नाम भी बवाल करवाने वालों में सामने आया था. बवाल से पहले पुलिस ने मस्जिद के इमाम को आगाह किया था, लेकिन अली अहमद ने सहयोग नहीं किया.

अब तक 40 उपद्रवी गिरफ्तार

बता दें कि अभी तक प्रयागराज हिंसा मामले में करेली और खुल्दाबाद थाने में बलवा करने समेत सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया गया है. पुलिस ने 36 नामजद और 1000 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. देर रात तक पुलिस ने 40 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि 10 मुख्य आरोपियों की तलाश में पुलिस की टीमें दबिश दे रही है.

Also Read : ‘दंगाइयों की पिटाई से अखिलेश को दर्द क्यों ?’, पूर्व CM के Tweet पर डिप्टी CM का पलटवार

ध्वस्त किया गया मुख्य आरोपी का घर

बता दें कि, इससे पहले प्रयागराज विकास प्राधिकरण (पीडीए) ने प्रयागराज हिंसा के आरोपी जावेद अहमद के आवास पर विध्वंस नोटिस लगाया गया था और रविवार सुबह 11 बजे तक घर खाली करने के लिए कहा था. क्योंकि यह अवैध रूप से निर्मित था. पीडीए ने जावेद के अवैध रूप से निर्मित घर पर दोपहर करीब 1 बजे के बाद तोड़फोड़ की प्रक्रिया शुरू की गई. इसके लिए भारी संख्या में पुलिस के साथ पीएसी और आरएएफ के जवान पहले से ही तैनात कर दिए गए थे. जब अध‍िकारी जावेद के मकान में गए तो अंदर से पीएफआई के झंडे और आपत्‍त‍िजनक साह‍ित्‍य भी म‍िला. अब पुल‍िस इसकी जांच में जुट गई.

Also Read: प्रयागराज हिंसा के मास्टरमाइंड जावेद मोहम्मद के मकान पर चला बुलडोजर, घर में मिले PFI के झंडे और आपत्तिजनक साहित्य

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Secured By miniOrange