मुख्यमंत्री योगी ने हापुड़ की ऑस्कर जीतने वाली डॉक्यूमेंट्री ‘periods: end of sentence’ को दी बधाई

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऑस्कर जीतने वाली डॉक्यूमेंट्री पीरियड एंड ऑफ सेंटेंस को ट्वीट कर बधाई दी है। मुख्यमंत्री ने ट्विटर पर लिखा कि सेनेटरी पैड का उद्योग लगाकर महिलाओं को बीमारियों से बचाने और उनका जीवन सुरक्षित करने वाली उत्तर प्रदेश के हापुड़ की बेटी स्नेह और उनकी सहेलियों के जीवन पर आधारित फिल्म पीरियड एंड ऑफ सेंटेंस के ऑस्कर जीतने पर ढेरों शुभकामनाएं।


सीएम ने फिल्म निर्माता को भी दी बधाई

यही नहीं, मुख्यमंत्री ने एक और ट्वीट कर लिखा कि इस कहानी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिए फिल्म की निर्माता गुनीत मोंगा को भी ढेरों बधाईयां। बता दें कि उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले के काठी खेड़ा गांव की रहने वाली युवती स्नेह पर बनी शॉर्ट फिल्म ‘पीरियड एंड ऑफ सेंटेंस’ को ऑस्कर अवार्ड मिला है।


Also Read: कांग्रेस से दूरी बरकरार रखते हुए माया-अखिलेश MP और उत्तराखंड में भी मिलकर लड़ेंगे चुनाव


इसकी घोषणा हॉलीवुड के डॉल्बी थिएटर में रविवार देर को आयोजित 91वें ऑस्कर अवार्ड समारोह में की गई। भारतीय फिल्म प्रड्यूसर गुनीत मोंगा की फिल्म ‘पीरियड. एंड ऑफ सेंटेंस’ को रयाक्ता जहताबची और मैलिसा बर्टन ने निर्देशित किया है। ये शॉर्ट फिल्म भारतीय समाज में पीरि‍यड्स के टैबू पर बनी है।


ये है पूरी कहानी

इस डॉक्यूमेंट्री की शुरूआत में गांव की लड़कियों से पीर‍ियड (मासिकधर्म) के बारे में पूछा जाता है। पीरियड क्या है? ये सवाल सुनकर वे लड़कियां शर्माती हैं। इसके बाद यही सवाल लड़कों से भी किया जाता है। वे लड़के पीरियड को लेकर अलग-अलग तरह के जवाब देते हैं। एक लड़के ने कहा- पीरियड वही होता है ना जो स्कूल में घंटा बजने के बाद होता है। वहीं दूसरा लड़का कहता है ऐसा सुना है कि ये एक तरह बीमारी है जो औरतों को होती है।


Also Read: लोकसभा चुनाव: सपा-बसपा गठबंधन में सीट बंटवारे का हुआ ऐलान, देखें पूरी लिस्ट


इस डॉक्यूमेंट्री में हापुड़ की स्नेहा का महत्वपूर्ण रोल है। जो पुल‍िस में भर्ती होना चाहती है। पीरियड को लेकर स्नेहा की सोच और लोगों से अलग है। स्नेहा कहती है जब दुर्गा को देवी मां कहते हैं, फिर मंदिर में औरतों की जाने की मनाही क्यों है। डॉक्यूमेंट्री में फलाई नाम की संस्था और र‍ियल लाइफ के पैडमैन अरुणाचलम मुरंगनाथम की एंट्री भी होती है। बता दें कि उन्हीं (पैडमैन) की बनाई सेनेटरी मशीन को गांव में लगाया जाता है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here