सिर्फ बछिया जन्में गाय, इसके लिए 50 करोड़ खर्च करेगी योगी सरकार

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने प्रदेश में देशी नस्ल की गायों से उच्च दुग्ध उत्पादन क्षमता वाली मादा संतति (बछिया) पैदा करने की योजना को नया रूप देते हुए नई पहल की है. योगी सरकार ने वर्गीकृत वीर्य (सेक्स सॉर्टेड सीमेन) के उपयोग की योजना के लिए 49.75 करोड़ रुपये मंजूर किए हैं. इस योजना के तहत ग्लोबल टेंडर के जरिये स्वदेशी गोवंश के सेक्स्ड सॉर्टेड सीमेन का उत्पादन किया जाएगा, जिसके तहत देसी गायों में कृत्रिम गर्भाधान कराया जाएगा. प्रदेश सरकार ने प्रदेश में देसी गोवंश को बढ़ावा देने तथा निराश्रित पशुओं की समस्या के समाधान के लिए यह सेक्स सॉर्टेड सीमेन के उपयोग की महत्वाकांक्षी योजना प्रारंभ की है.


बुंदेलखंड में 100, अन्य जिलों में 300 रुपये लेवी


योगी सरकार की इस पहल के बारें में अधिक जानकारी देते हुए प्रमुख सचिव पशुधन डॉ. सुधीर एम बोबडे ने बताया कि यह योजना सभी 75 जिलों में लागू की जाएगी. सेक्स्ड सीमेन से कृत्रिम गर्भाधान के लिए पशुपालकों से बुंदेलखंड में 100 रुपये और अन्य जनपदों में 300 रुपये लेवी के रूप में लिए जाएंगे. योजना के तहत पशुओं की टैगिंग, फोटोग्राफी, किट के जरिये गर्भ परीक्षण, उसकी मॉनीटरिंग एवं मादा संततियों (बछिया) की रिकॉर्डिंग भी कराई जाएगी. मुख सचिव ने योजना के लिए 49.75 करोड़ रुपये की स्वीकृति का शासनादेश पशुपालन विभाग के निदेशक प्र्रशासन एवं विकास को भेज दिया है. उन्होंने कहा है कि स्वीकृत की गई धनराशि का एकमुश्त आहरण न करके आवश्यकतानुसार किया जाए.


यह होगा लाभ


1- नर गोवंश (बछड़ों व सांडों) की संख्या में कमी आएगी और निराश्रित गोवंश की संख्या घट जाएगी.
2- कृषि फसलों के नुकसान में कमी आएगी.
3- पशुओं से हाने वाली सड़क दुर्घटना में कमी आयेगी.
4- स्वदेशी नस्ल की गायों का संरक्षण होगा, उनकी संख्या बढ़ेगी.
5- देसी मादा पशुओं से उच्च गुणवत्ता की बछिया पैदा होने से आने वाले सालों में दूध का उत्पादन बढ़ेगा.
6- दूध की बिक्री बढ़ने से किसानों व पशुपालकों की आय में वृद्धि होगी.

देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करेंआप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here