Breaking Tube
Police & Forces UP News

वाराणसी: थाने में बैठे थे SSP, कानफोड़ू आवाज करती बुलेट से पहुंचे दारोगा, जानिए फिर क्या हुआ?

वाराणसी (Varanasi) के एसएसपी अमित पाठक (SSP Amit Pathak) अक्सर ही थानों में चेकिंग के लिए जाते रहते हैं. इन निरीक्षकों के दौरान कई बार अच्छा काम करने वाले पुलिसकर्मियों को सम्मानित किया जाता है, तो कई बार लापरवाही करने वालों को सजा भी मिलती है. रविवार को भी बड़ागांव थाने चेकिंग के लिए एसएसपी और आईजी पहुंचे हुए. इसी दौरान तेज आवाज वाली बुलेट से थाने पहुंचे दरोगा का चालान खुद एसएसपी ने करवा दिया. वहीँ उन्होंने दरोगा को चेतावनी भी दी.


ये है मामला

जानकारी के मुताबिक, वाराणसी आईजी रेंज विजय सिंह मीना और एसएसपी अमित पाठक ने रविवार को बड़ागांव थाने का वार्षिक निरीक्षण किया. इस दौरान थाना परिसर में जारी निर्माण कार्य को बंद देख एसएसपी ने नाराजगी जताई. उन्होंने पुलिस आवास और आरक्षी बैरक का निर्माण कार्य तत्काल शुरू कराने को कहा. इसके साथ ही थाने के रजिस्टरों और अन्य अभिलेखों में खामियां देख एसएसपी ने थानाध्यक्ष मुरलीधर को कार्रवाई की चेतावनी दी.


Also Read: गोरखपुर: ADG ने बीट सिपाहियों को सौंपा बड़ा टास्क, जीतने वाले को मिलेगा अफसरों के साथ चाय पीने का मौका


एसएसपी ने दी चेतावनी

चेकिंग के दौरान ही दारोगा दुर्गेश कुमार ने थाना परिसर में तेज आवाज वाली नंबर प्लेट पर पुलिस लिखी बुलेट से प्रवेश किया. बुलेट की आवाज सुन और नंबर प्लेट देखकर एसएसपी भड़क गए. उन्होंने दारोगा को फटकार लगाते हुए तत्काल चालान कराया. इस दौरान एसपी ग्रामीण विनय कुमार सिंह, क्षेत्राधिकारी बड़ागांव जगदीश कालीरमन सहित थाने के सभी पुलिसकर्मी मौजूद रहे. एसएसपी ने साफ तौर बाकियों को भी ऐसा न करने के लिए चेतावनी दी.


Also Read:यूपी: कोरोना से शहीद पुलिसकर्मियों के परिजनों की मदद करने में कप्तान नहीं दिखा रहे रूचि, DGP ने लगाई फटकार


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

‘मैग्नेटिक’ पावर तो ‘योगी’ में है, तभी फिल्म इंडस्ट्री के लोग उनपर जता रहे भरोसा, मोहसिन रजा का उद्धव ठाकरे को करारा जवाब

BT Bureau

कानपुर शूटआउट पर अश्विनी उपाध्याय बोले- जब तक पुलिस रिफार्म और जुडिशियल रिफार्म नहीं होगा तब तक नहीं समाप्त होगा अपराध

BT Bureau

अजान विवाद: सपा के पूर्व मंत्री नारद राय बोले- मंदिरों में लाउडस्पीकर से मांगा जाता है चंदा, मस्जिदों से नहीं

Jitendra Nishad