ट्रेड वॉर से डगमगाई अमेरिकी अर्थव्यवस्था, 54,600 करोड़ रुपये का नुकसान

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा छेड़े गए ट्रेड वॉर ने अब अमेरिका को आर्थिक रूप से नुक्सान पहुंचाना शुरू कर दिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार ट्रेड वार के चलते अमेरिका को 54,600 करोड़ रुपये (7.8 अरब डॉलर) का नुकसान हुआ है. अमेरिकी विश्वविद्यालयों के अर्थशास्त्रियों ने यह जानकारी देते हुए कहा कि ट्रंप की कार्रवाई के अल्पकालिक नतीजों का विश्लेषण करने पर जो पाया कि ट्रेड वॉर से लक्षित देशों से अमेरिका के आयात में 31.5 फीसदी और निर्यात में 11 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई.


Also Read: खुदरा के बाद अब थोक महंगाई दर ने तोड़ी कमर, टूटा पिछले साल का रिकॉर्ड


अर्थशास्त्रियों ने इस इस रिपोर्ट में कहा कि ‘ट्रेड वॉर से अमेरिकी अर्थव्यवस्था को कुल मिलाकर 7.8 अरब डॉलर का नुकसान हुआ है, जो सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का 0.04 फीसदी है.’ यह अध्ययन यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया बर्कले, कोलंबिया यूनिवर्सिटी, येल यूनिवर्सिटी तथा यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया ऐट लॉस एंजेलिस (यूसीएलए) के अर्थशास्त्रियों के एक दल द्वारा किया गया है, जिसे नैशनल ब्यूरो ऑफ इकनॉमिक रिसर्च ने प्रकाशित किया है.


Also Read: ऑनलाइन टिकट के बहाने BookMyShow ग्राहकों से कर रहा नाजायज वसूली, ऐसे करें शिकायत


राष्ट्रपति बनने के बाद हुआ नुकसान


खुद को ‘टैरिफ मैन’ करार देने वाले ट्रंप ने व्यापार घाटा कम करने के लिए अपने चुनावी अभियान और राष्ट्रपति बनने के बाद अनुचित ट्रेडेड इंपोर्ट्स पर लगाम और फ्री ट्रेड अग्रीमेंट पर फिर से विचार करने का संकल्प लिया था. डॉनल्ड ट्रंप ने अमेरिकी मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र को फायदा पहुंचाने के लिए संरक्षणवादी ट्रेंड एजेंडे को अपनाया है. वाशिंगटन तथा पेइचिंग दोनों ही महीनों तक इस ट्रेड वॉर में उलझे रहे और एक दूसरे के खिलाफ टैरिफ लगाते रहे हैं. ट्रंप ने यूरोपीय संघ और अन्य ट्रेडिंग पार्टनर्स से आयात पर भी टैरिफ लगाया, जिसका यूरोपीय संघ ने पुरजोर विरोध किया.


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here