Breaking Tube
Crime Government

CAA हिंसा: दंगाइयों को बख्शने के मूड में नहीं योगी सरकार, वसूली टीमें हुईं एक्टिव

Awanish K Awasthi

बीते साल नागरिकता संशोधन कानून के विरोध की आड़ में उत्तर प्रदेश को हिंसा की आग में झोंकने वाले दंगाइयों को योगी सरकार बख्शने के मूड में कतई नहीं दिख रही है. मंगलवार को राजधानी लखनऊ में विभिन्न टीमों ने अलग-अलग जगह वसूली के लिए छापेमारी का अभियान चलाया. इस दौरान खदरा में उपद्रव के आरोपी धर्मवीर का कॉम्लेक्स भी पुलिस ने सील कर दिया. वहीं इसी इलाके में एक अन्‍य आरोपी माहेनूर चौधरी की संपति को सीज कर दिया गया. 


किसी से वसूली तो किसी की संपत्ति सीज

तहसीलदार सदर शंभुशरण के मुताबिक सदर तहसील की टीमों ने तीन उपद्रवी से वसूली की कार्रवाई की. सदर में करीब 22 लाख रुपए की वसूली होनी है. CAA के विरोध में हुए हिंसक प्रदर्शनों के मामले में 56 उपद्रवियों को वसूली का नोटिस जारी किया जा चुका है. लेकिन अब तक ज्यादातर आरोपियों ने इसे अदा नहीं किया है. जिन उपद्रवियों ने अब तक हिंसा की भरपाई का जुर्माना नहीं जमा कराया है, प्रशासन ने उनकी सपंत्ति सीज कर नीलाम करने और गिरफ्तारी के निर्देश जारी कर दिए हैं.


बता दें कि सीएए विरोध की आड़ में बीते साल लखनऊ समेत कई शहरों में हिंसा की गई थी. राजधानी के परिवर्तन चौक से लेकर पुराने लखनऊ इलाके में खूब उपद्रव काटा गया. दंगाइयों ने सरकारी संपत्ति से लेकर निजी संपत्ति तक जो जहां पाया उसमें आगजनी व तोड़फोड़ की. योगी सरकार हिंसा के लिए दंगाइयों से वसूली का आदेश दिया इतना ही नहीं प्रशासन ने चौक-चौराहों पर उपद्रवियों के पोस्टर भी लगाए.


Also Read: रंग लाई सीएम योगी की UP में निवेश बढ़ाने की मुहिम, इंवेस्ट को तैयार थाईलैंड की ‘बिग सी’ रिटेल कंपनी


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

CM योगी ने अधिकारियों से कहा- कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए पूरी सतर्कता के साथ प्रभावी कार्रवाई की जरूरत

Jitendra Nishad

बाराबंकी पुलिस ने विवेचना में वसूले 65 लाख, कंपनी ने DGP को सबूत में भेजी रकम लेते पुलिसकर्मियों की फोटो

Jitendra Nishad

गैंगरेप के आरोपी सपा विधायक मनोज पारस गिरफ्तार, कोर्ट ने भेजा जेल

BT Bureau