Breaking Tube
Government

UPPSC परीक्षा स्थगित होने पर छात्रों का फूटा गुस्सा, विरोध में जूता पॉलिश कर दीं गिरफ्तारियां

एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद रविवार को यूपीपीएससी की आगामी परीक्षाएं स्थगित होने पर प्रयागराज में छात्र सड़क पर उतर आए और जमकर विरोध-प्रदर्शन किया। इस दौरान छात्रों के हाथों में स्लोगन लिखी तख्तियां भी नजर आईं। वहीं, प्रतियोगी छात्रों ने जूता पॉलिश कर विरोध जताया और गिरफ्तारियां दी।

एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद रविवार को यूपीपीएससी की आगामी परीक्षाएं स्थगित होने पर प्रयागराज में छात्र सड़क पर उतर आए और जमकर विरोध-प्रदर्शन किया। इस दौरान छात्रों के हाथों में स्लोगन लिखी तख्तियां भी नजर आईं। वहीं, प्रतियोगी छात्रों ने जूता पॉलिश कर विरोध जताया और गिरफ्तारियां दी।


लाखों परीक्षार्थियों का भविष्य दांव पर

जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) की आगामी परीक्षाएं स्थगित हो चुकी हैं और पहले से चल रही परीक्षाओं के परिणाम को लेकर भी संशय है। ऐसे में लाखों परीक्षार्थियों का भविष्य दांव पर लगा है। आयोग फिर पुराने ढर्रे पर लौटता नजर आ रहा है और ऐसे में परीक्षाओं के सत्र कई साल पीछे जा सकते हैं। आयोग ने जुलाई से दिसंबर तक के अर्धवार्षिक कैलेंडर को स्थगित कर दिया है।


Also Read: ‘वंदे मातरम’ का विरोध करने वाले सपा सांसद बोले- देश में मुसलमानों की हत्या की जा रही, हमें कब मिलेगा जीने का हक़


इस कैलेंडर की परीक्षा अब अगले साल ही आयोजित की जा सकेंगी, लेकिन आयोग के लिए इससे बड़ी चुनौती पिछली परीक्षाओं का परिणाम जारी करना है। अभ्यर्थियों ने पिछले साल 29 जुलाई को एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती परीक्षा दी थी। ऐसे में अब एक साल पूरे होने वाले हैं और अभी तक प्रमुख विषयों के परिणाम भी घोषित नहीं किए गए हैं। एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती का पेपर आउट होने का मामला सामने आने और परीक्षा नियंत्रक की गिरफ्तारी के कारण परीक्षा में शामिल हुए चार लाख अभ्यर्थी उहापोह की स्थिति में है। एलटी ग्रेड शिक्षकों के 10768 पदों पर भर्ती पूरी होगी या नहीं, इस पर भी अब असमंजस की स्थिति है।


Also Read: अखिलेश यादव का चेक बना ऑस्कर विजेताओं के लिए परेशानी का सबब, दोनों को नौकरी से निकाला गया


उधर, सम्मिलित राज्य अभियंत्रण सेवा परीक्षा-2013 के तहत अवर अभियंता (जेई) के 3222 पदों का परिणाम फंसा हुआ है, परीक्षा छह साल पुरानी है। इसके साथ एई के पदों पर भर्ती के लिए भी परीक्षा हुई थी, जिसका अंतिम चयन परिणाम घोषित हो चुका है, लेकिन परीक्षा नियंत्रक की गिरफ्तारी के बाद अब जेई के परिणाम को लेकर संशय की स्थिति बनी हुई है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

यूपी: शीतलहर में गायों को ठंड से बचाने के लिए पहनाया जाएगा ‘काऊ कोट’, अयोध्या नगर निगम ने लिया फैसला

BT Bureau

बारिश की वजह से ग्रेटर नोएडा में 3 मंजिला बिल्डिंग गिरी, 3 लोग घायल

Satya Prakash

प्रॉपर्टी बिज़नेस में हुई सख्ती, DC ने निगम से मांगे अवैध कॉलोनियों के हिसाब

Satya Prakash