Breaking Tube
Police & Forces UP News

यूपी: वीमेन सिक्योरिटी के लिए ‘मिशन शक्ति’ का आगाज, अबसे हर थाने में महिलाओं को मिलेगी विशेष सुविधा

आज से शारदीय नवरात्र की शुरुआत हो गई है। इसी के चलते उत्तर प्रदेश में सीएम योगी ने मिशन शक्ति का भी शुभारंभ कराया है। शासन ने पहली बार बड़े स्तर पर महिला पुलिसकर्मियों की जिम्मेदारी भी बढ़ाई है। सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ साथ डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने ‘मिशन शक्ति’ को लेकर अधीनस्थों को कई कड़े दिशा निर्देश दिए हैं। बता दें मिशन शक्ति’ के तहत थानों में महिला हेल्प डेस्क बनाए जा रहे है। महिला डेस्क पर महिला पुलिसकर्मी की तैनाती की जाएगी, जिससे लड़कियों और महिलाओं को थाने जाकर अपनी शिकायत दर्ज कराने या बात कह पाने में आसानी होगी।


महिला पुलिसकर्मियों पर होगी बड़ी जिम्मेदारी

मुख्यमंत्री योगी ने बलरामपुर की पुलिस लाइन में मिशन शक्ति अभियान का शुभारंभ किया। इस मौके पर उन्होंने एलान किया कि अब पुलिस भर्ती में 20 प्रतिशत भर्ती बेटियों की होगी। मिशन शक्ति अभियान से 24 सरकारी विभाग तथा अन्तर्राष्ट्रीय और स्थानीय सामाजिक संगठन जुड़ेंगे। उन्होंने कहा कि दुष्कर्मियों को बख्शा नहीं जाएगा उनकी तस्वीरें चौराहों पर लगेंगी। मिशन शक्ति अभियान 25 अक्तूबर तक चलेगा। इसके बाद अप्रैल तक हर महीने यह अभियान एक-एक सप्ताह के लिए चलाया जाएगा। जिसके लिए तिथिवार थीम निर्धारित की गई है।


Also read: मुरादाबाद: SSP ने छात्र को दिलाए नए कपड़े व जूते, खुशी से खिल उठा मासूम का चेहरा


नवरात्र के मौके पर शनिवार से शुरू हो रहे मिशन शक्ति की सफलता का दारोमदार भी पुलिस के कंधों पर है। सूबे में करीब 36 महिला आइपीएस व 65 से अधिक महिला पीपीएस अधिकारी हैं। इसके अलावा करीब 23.5 हजार महिला सिपाही, एक हजार महिला हेड कांस्टेबल, 800 महिला उपनिरीक्षक व करीब 150 महिला उपनिरीक्षक हैं। जिनके कंधों पर अब बड़ी जिम्मेदारी आयेगी। ये सभी महिला पुलिसकर्मी अब महिला सुरक्षा के लिए फील्ड पर उतरेंगी।


मिशन शक्ति’ के तहत थानों में महिला हेल्प डेस्क बनाए जा रहे है। महिला डेस्क पर महिला पुलिसकर्मी की तैनाती की जाएगी, जिससे लड़कियों और महिलाओं को थाने जाकर अपनी शिकायत दर्ज कराने या बात कह पाने में आसानी होगी।


इसलिए हुई शुरुआत

बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने ‘मिशन शक्ति’ को सफल बनाने का निर्देश दिया था। सीएम योगी ने कहा था कि हमें नवरात्र का वास्तविक संदेश आत्मसात करना होगा। सशक्त स्त्री, समृद्ध समाज का आधार है। मुख्यमंत्री ने प्रदेश की एक-एक बालिका और महिला की सुरक्षा, गरिमा और सशक्तिकरण सुनिश्चित करने का संकल्प लेते हुए ‘मिशन शक्ति’ को सफल बनाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि महिला सुरक्षा, गरिमा और सशक्तीकरण को ‘जनांदोलन’ बनाने की आवश्यकता है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

जवान ने नहीं दी सेना की जानकारी, आतंकियों ने ले ली जान

Jitendra Nishad

प्रतापगढ़: पुलिसकर्मियों को Corona से बचाने को एसपी ने उपलब्ध कराई स्पेशल किट

Satya Prakash

यूपी: बीमार माँ का इलाज कराने के लिए सिपाही ने दिया इस्तीफा, विभाग को बतौर जुर्माने चुकाए 4.5 लाख तब मिला रिलीव

BT Bureau