Breaking Tube
Crime UP News

मथुरा: नंद बाबा मंदिर में धोखा देकर पढ़ी नमाज, मो. चांद समेत 4 के खिलाफ केस दर्ज

उत्तर प्रदेश में मथुरा (Mathura) के नंदगांव में स्थित विश्व प्रसिद्ध नंद बाबा मंदिर (Nand Baba Mandir) में चार दिन पूर्व दो मुस्लिमों द्वारा नमाज (Namaz) पढ़ने को लेकर विवाद शुरू हो गया है. रविवार को नंदबाबा मंदिर में नमाज पढ़ने की फोटो सोशल मीडिया पर सामने आने के बाद हिंदू संगठनों ने नाराजगी जताई.  अब इस मामले में मंदिर के सेवायत कान्हा गोस्वामी द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर पुलिस (Police) ने आरोपी मों. चांद समते 4 युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है.


वहीं इस मामले की जानकारी देते हुए एसएसपी ने बताया कि फैसल खान, चांद मोहम्मद समेत 4 युवकों के विरूद्ध धारा 153-A, 295 ,505, के तहत बरसाना थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है. साथ ही एसएसपी ने इस पूरे प्रकरण की जांच खुफिया विभाग को भी सौंपी है. मंदिर में नमाज पढ़ने और उसकी फोटो वीडियो वायरल करने के पीछे आखिर क्या मंशा थी अब इसकी भी जांच की जा रही है.


खुद को सर्वधर्म समभाव वाला बताया

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक नंदगांव के विश्व प्रसिद्ध से नंद बाबा मंदिर में 29 अक्टूबर की दोपहर हरी टोपी लगा कर दो युवक अपने तीन सहयोगियों के साथ पहुंचे. मंदिर में पहुंचने के बाद एक युवक ने अपना नाम फैजल खान बताया और अपने साथ आए साथियों का परिचय मोहम्मद चांद, नीलेश गुप्ता और आलोक रतन के रूप में कराया. फैजल ने मंदिर के सेवायत पुजारी कान्हा गोस्वामी से दर्शन करने की बात कही और स्वयं को हिंदू मुस्लिम संस्कृति में विश्वास रखने वाला बताया और अपने मोबाइल से तमाम हिंदू संत-महंतों के साथ अपनी फोटो दिखाए.


धोखा देकर पढ़ी नमाज

सेवायत ने उनकी बात का मान रखते हुए दर्शन करने की अनुमति दी और वह दर्शन करके मंदिर के गेट नंबर 2 की ओर चले गए. कोविड-19 के चलते मंदिर में आजकल श्रद्धालुओं की भीड़ नहीं है. इसका फायदा उठाकर फैजल खान ने मंदिर परिसर में चांद मोहम्मद के साथ नमाज पढ़ी और उसके साथी नीलेश गुप्ता और आलोक ने उनके फोटो खींचे.


रोकने के बाद भी पढ़ी नमाज

वहीं इस मामले पर सेवायत कान्हा ने बताया कि जानकारी होने पर यह भी बात सामने आई है कि वहां खड़े लोगों ने नमाज पढ़ने के लिए मना किया था. बताया जा रहा है कि फैजल खान के अलावा चांद व गांधीवादी कार्यकर्ता नीलेश गुप्ता व आलोक रत्न भी मौजूद थे. लेकिन अब तस्वीरों के वायरल होने से हिंदूवादी लोगों में आक्रोश है. वहीं कौमी एकता मंच के मधुबन दत्त चतुर्वेदी ने इसे भाईचारे की मिसाल बताया है.


Also Read: बरेली में सड़क घेरकर जबरन नमाज वाले इमाम समेत 13 के खिलाफ FIR दर्ज


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

फर्जी ब्रांड से बनाई गयी अवैध शराब ज़ब्त एसटीएफ ने किया भंडाफोड़

Satya Prakash

पशुधन घोटाला: IPS अरविंद सेन को भगोड़ा घोषित कर संपत्ति कुर्क करने की तैयारी में पुलिस

Jitendra Nishad

शाहजहांपुर: ‘मुसलमान नहीं बनी तो तेरा अश्लील Video इतनी जगह फैलाऊंगा शर्म से मर जाएगी, दलित गैंगरेप पीड़िता से बोला SP जिलाध्यक्ष

BT Bureau