सर्वे: आज हुए चुनाव तो UP में NDA को 48 सीटों का घाटा, गठबंधन को दो तिहाई से अधिक सीटें

लोकसभा चुनाव होने में तीन-चार महीने बाकी हैं. चुनावी बिगुल कभी भी बज सकता है. इस बीच टीवी चैनलों पर लगातार सर्वे आ रहे हैं. एबीपी न्यूज-सी वोटर के ताजा सर्वे के मुताबिक अगर अभी चुनाव हुए तो उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में से भाजपा की अगुवाई वाले एनडीए को मात्र 25 सीटें मिल सकती हैं. यानी उसे 48 सीटों का घाटा हो सकता है. 2014 में यूपी में एनडीए (भाजपा-71 और अपना दल-2) को 73 सीटें मिली थीं. सर्वे के मुताबिक सपा-बसपा और रालोद के गठबंधन को 51 सीटें मिल सकती हैं. 2014 के चुनाव में इस गठबंधन में मात्र सपा को पांच सीटें मिली थीं. बसपा और रालोद का खाता भी नहीं खुला था. सर्वे के मुताबिक कांग्रेस को 100 फीसदी फायदा होता नजर आ रहा है. कांग्रेस को कुल चार सीटें मिल सकती हैं. 2014 में कांग्रेस अमेठी और रायबरेली में ही जीत सकी थी.


सर्वे के मुताबिक मुस्लिम बहुल पश्चिमी उत्तर प्रदेश की कुल 26 सीटों में से 15 पर सपा-बसपा और रालोद गठबंधन की जीत हो सकती है, जबकि भाजपा को मात्र 10 सीटें मिल सकती हैं. इस इलाके में कांग्रेस को एक सीट मिलती हुई दिखाया गया है. पश्चिमी उत्तर प्रदेश में सहारनपुर, कैराना, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, नगीना, मुरादाबाद, रामपुर, संभल, अमरोहा, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद, गौतम बुद्ध नगर, बुलंदशहर, अलीगढ़, फतेहपुर सीकरी, आगरा, मथुरा आदि सीटें आती हैं. सर्वे के मुताबिक उत्तर प्रदेश के पूर्वी हिस्से यानी पूर्वांचल की कुल 21 सीटों में 15 पर गठबंधन की जीत हो सकती है, जबकि एनडीए छह सीटों पर सिमट सकता है. इस प्रदेश में भी कांग्रेस को एक सीट मिलने के आसार हैं. पूर्वांचल में वाराणसी, चंदौली, गाजीपुर, रॉबर्ट्सगंज, मिर्जापुर,  जौनपुर, बलिया, आजमगढ़, देवरिया, गोरखपुर, महाराजगंज आदि सीटें आती हैं.


सर्वे के मुताबिक अवध इलाके की 18 संसदीय सीटों में से 13 पर गठबंधन के उम्मीदवार जीत सकते हैं जबकि मात्र तीन पर एनडीए की जीत हो सकती है. सर्वे के मुताबिक इस इलाके में कांग्रेस दो सीटें जीत सकती है. इस इलाके में अमेठी, रायबरेली, लखनऊ, हरदोई, कन्नौज, उन्नाव, औरैया, इटावा, मिशरिख, मोहनलालगंज आदि सीटें आती हैं.


सर्वे के मुताबिक मध्य उत्तर प्रदेश और बुंदेलखंड इलाके की कुल 15 संसदीय सीटों में से आठ पर गठबंधन और छह पर एनडीए की जीत हो सकती है जबकि एक सीट पर कांग्रेस की जीत हो सकती है. इस इलाके में झांसी, बांदा, हमीरपुर, फतेहपुर आदि सीटें आती हैं.


Also Read: सपा-बसपा गठबंधन से बीजेपी को मिलेगी बड़ी चुनौती, एकजुट मुस्लिम वोट बैंक बिगाड़ सकता है गणित


देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करेंआप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here