लखनऊ: सपा कार्यालय पर कार्यकर्ताओं ने उड़ाई नियमों की धज्जियां, 2500 के खिलाफ केस दर्ज, SHO सस्पेंड

शुक्रवार को लखनऊ स्थित समाजवादी पार्टी कार्यालय में कोविड प्रोटोकॉल की जमकर धज्जियां उड़ाई गई। जिसके बाद चुनाव आयोग ने अब सख्ती बरतना शुरू कर दिया है। दरअसल, चुनाव आयोग ने सबसे पहले लखनऊ के गौतमपल्ली एसएचओ को सस्पेंड किया। इसके साथ ही थाने में तकरीबन 2500 सपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज दर्ज किया गया है। इसके साथ ही सहायक पुलिस आयुक्त और अपर नगर मजिस्ट्रेट से जवाब मांगा गया है। वहीं अब सपा कार्यालय के बाहर नियमों का पालन करने के लिए एक नोटिस भी चस्पा की गई है।

बिना अनुमति के हो रहा था कार्यक्रम

जानकारी के मुताबिक, सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलश यादव (Akhilesh Yadav) ने शुक्रवार को पार्टी कार्यालय में बीजेपी छोड़कर आए नेताओं को पार्टी में शामिल कराया। इस मौके पर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया था। इस कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं का जनसैलाब पहुंच गया। लखनऊ के डीएम अभिषेक प्रकाश ने कहा कि सपा का कार्यक्रम बिना अनुमति के हो रहा था। सूचना मिलने पर मजिस्ट्रेट के साथ पुलिस टीम को भेजा गया, जिसके आधार पर जरूरी कार्रवाई की गई है। धारा 144 के उल्लंघन और महामारी एक्ट के अंतर्गत पुलिस ने 2500 सपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

एसीपी और एसीएम से मांगा गया जवाब

इतना ही नहीं, मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने एक प्रेस नोट में कहा, ‘निर्वाचन आयोग ने आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में थाना प्रभारी (SHO) गौतमपल्ली, दिनेश सिंह विष्ट को कर्तव्यों के निर्वहन में घोर लापरवाही बरतने के कारण तत्काल प्रभाव से निलम्बित करने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा सहायक पुलिस आयुक्त अखिलेश सिंह और अपर नगर मजिस्ट्रेिट-प्रथम गोविन्द मौर्य से शनिवार को सुबह 11 बजे तक स्पष्टीकरण प्राप्त करने के निर्देश दिए हैं।’

Also Read: ‘कानपुर पुलिस कमिश्नरेट के थानों-चौकियों से यादवों को हटा दिया गया’, सिपाही की पोस्ट से मचा हड़कंप

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )