Breaking Tube
Corona Government

बीमारी न छिपा सकें कोरोना संक्रमित, डोर टू डोर मेडिकल स्क्रीनिंग कराएगी योगी सरकार

CM yogi adityanath

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) सरकार कोरोना से जंग पर कई मोर्चों पर काम कर रही है. सरकार के प्रयासों से आज रोजाना 20 हजार से ज्यादा सैंपल टेस्टिंग हो रही है. वहीं सरकार मेडिकल स्क्रीनिंग को और बड़े स्तर पर करने की योजना बना रही है. सरकार अब घर-घर जाकर कोरोना मरीजों को ढूढेंगी, इसके लिए जुलाई से डोर टू डोर कैंपेंन चलाने की तैयारी है. सबसे पहले मेरठ मंडल के जिलों में मेडिकल टीम्स लोगों के घर पहुंचकर कोरोना लक्षणों का पता लगाएंगी.


सभी मंडलों में चलाया जाएगा अभियान 


जुलाई के पहले हफ्ते से मेडिकल टीमों का ये अभियान शुरू होगा. मेरठ मंडल के बाद इसे प्रदेश के 17 मंडलों में भी शुरू किया जाएगा. इस अभियान के तहत सभी घरों का सर्वेक्षण होगा, और कोरोना के लक्षणों की स्क्रीनिंग की जाएगी. अपर मुख्य सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने रविवार को यह जानकारी दी. 


प्रदेश में रिकवरी रेट 66.86 फीसदी पहुंचा


अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट लगातार सुधर रहा है. इस समय 66.86 फीसदी रिकवरी रेट है. इसके अलावा प्रदेश में पूल टेस्टिंग का भी काम जोरों पर है. ग्रामीण इलाकों में कोरोना से बचाव के लिए आशा वर्कर्स की मदद ली जा रही है. सभी इलाकों में कोरोना से बचाव और सावधानी बरतने के लिए कहा रहा है. लोग बिना जरूरत घरों से बाहर न निकलें. चेहरे और नाक को ढकने और दो गज की दूरी बनाकर बनाए रखने की हिदायत दी जा रही है. 


5.60 करोड़ लोगों का सर्वे

प्रदेश में अब तक 1.10 करोड़ परिवारों के 5.60 करोड़ लोगों का सर्वेक्षण किया जा चुका है. इसके लिए 1.50 लाख सर्विलांस टीमें लगाई गई हैं. प्रदेश में रिकवरी रेट बढ़कर 66.86% पहुंच चुका है. मुख्स सचिव ने कहा कि कोरोना का प्रसार को रोकने में आम नागरिकों की महत्वपूर्ण भूमिका है. इसलिए उन्हें विभिन्न प्रचार माध्यमों से जागरूक करने के लगातार प्रयास किए जाएं. मैजिस्ट्रेट और पुलिस की गाड़ियों से व्यस्त चौराहों एवं बाजारों में पैट्रोलिंग कर सोशल डिस्टेसिंग और मास्क का उपयोग सुनिश्चित कराएं.


तिवारी ने कहा कि सरकारी कार्यालयों, उद्योगों और ऐसे समस्त स्थानों पर जहां पर बड़ी संख्या में लोग आते हैं, वहां कोविड हेल्प डेस्क स्थापित करने के कार्य में तेजी लायी जाए. गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत चिन्हित 31 जिलों के साथ-साथ बाकी जिलों में भी रोजगार के अवसर पैदा करने के प्रयास किए जाएं.


Also Read: रंग लाई सीएम योगी की मेहनत, UP ने हासिल की प्रतिदिन 20 हजार सैंपल टेस्टिंग क्षमता


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

लॉकडाउन 2.0 में आज से रियायत की दूसरी किस्त, देशभर में शर्तों के साथ दुकानें खोलने की दी इजाजत

BT Bureau

उग्र इस्लामिक संगठन PFI पर बैन लगाएगी योगी सरकार, DGP ने केंद्र को भेजी सिफारिश

BT Bureau

Budget 2019 Live: हमारी सरकार ने कमरतोड़ महंगाई की कमर ही तोड़ दी- पीयूष गोयल

admin