कानपुर आउटर में PRV का रिस्पांस टाइम प्रदेश में सबसे खराब, ADG जोन ने दिए जांच के आदेश

 

यूपी 112 की पीआरवी ने हर जिला और हर कस्बे में ये कुछ ही मिनटों में पहुंचने का रिकॉर्ड बना रखा है। पर कानपुर के एक इलाके में असलियत बिल्कुल विपरीत है। दरअसल, कानपुर आउटर पुलिस घटना की सूचना पर सबसे देरी में पहुंच रही है। पीआरवी का रिस्पांस टाइम पूरे प्रदेश में सबसे खराब है। ऐसे में शिकायत मिलने के बाद एडीजी जोन भानु भास्कर ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए गुरुवार को जांच के आदेश दिए हैं। एडीजी ने साफ तौर पर ये कहा है कि शिकायत का संज्ञान लेकर कार्रवाई करें और उच्चाधिकारियों को जानकारी दें।

ये है मामला

जानकारी के मुताबिक, हाल ही में पुलिस मुख्यालय से एक आंकड़ों का चार्ट जारी किया गया था। जिनमें कानपुर आउटर में औसतन 15 मिनट में पुलिस सूचना पर पहुंच रही है। रिस्पांस टाइम में आउटर पुलिस सबसे नीचे 78वें नंबर पर है। यही नहीं कानपुर रेंज के कई अन्य जिलों का भी यही हाल है। सबसे बेहतर रिस्पांस टाइम रेंज में फतेहगढ़ का आठ मिनट 23 सेकेंड है। जबकि औरैया कर 12 मिनट 44 सेकेंड, कानपुर देहात का 11 मिनट 03 सेकेंड व कन्नौज का 10 मिनट 23 सेकेंड है।

झांसी आईजी करेंगे जांच

एडीजी ने कानपुर रेंज में खराब रिस्पांस टाइम की जांच आईजी प्रशांत कुमार को दी है। इसी क्रम में झांसी में रेंज के तीनों जिलों झांसी, ललितपुर व जालौन में भी पीआरवी रिस्पांस टाइम की जांच झांसी आईजी रेंज करेंगे। एडीजी ने तत्काल निर्देश दिए हैं कि सूचना पर कम से कम समय में पहुंचे। एडीजी ने साफ शब्दों में कहा है कि वो इस तरह की लापरवाही कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे।

Also Read: UP: विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत 5 लाख श्रमिकों को प्रशिक्षण के साथ टूलकिट देगी सरकार

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )