पाक में वायुसेना के स्ट्राइक पर शहीद पंकज त्रिपाठी की पत्नी बोली- आज मिली ‘कलेजे’ को ठंडक

मंगलवार को भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमान ने पीओके समेत पाकिस्तान के भीतर घुसकर जैश-ए -मुहम्मद के आतंकी शिविरों को तहस-नहस कर पुलवामा आतंकी हमले का बदला लिया. भारतीय वायु सेना के द्वारा की गयी इस सर्जिकल स्ट्राइक पर महराजगंज के शहीद पंकज त्रिपाठी के गांव में खुशी की लहर दौड़ पड़ी.


शहीद की पत्‍नी रोहिणी त्रिपाठी ने कहा कि भारतीय सेना को ढूंढ-ढूंढ कर आतंकियों का सफाया करना चाहिए. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक रोहिणी ने कहा कि कार्रवाई का यह सिलसिला तब तक लगातार चलना चाहिए जब तक आतंकियों का धरती से नामोनिशान न मिट जाए. वहीं मोदी सरकार की इस एयर स्ट्राइक पर बोलते हुए उन्होंने कहा, आज हमारे कलेजे को शांति मिली हैं.’ उन्होंने कहा कि आतंकी के भी शरीर के टुकड़े-टुकड़े हो जाए और उन सबकी पहचान बेल्ट व कपड़ों से हो.


मंगलवार तड़के जब वायु सेना के लड़ाकू विमान पाकिस्तान में घुसकर जैश-ए-मोहम्मद के प्रशिक्षण शिविरों को ध्वस्त कर रहे थे, तब पीएम मोदी साउथ ब्लॉक में ही थे और कंट्रोल रूम से पूरे ऑपरेशन पर नजर बनाए हुए थे. बालाकोट में लगभग 3.45 बजे, मुजफ्फराबाद में 3.48 बजे और चाकोटी में लगभग 3.58 बजे प्रशिक्षण शिविरों पर हमला किया गया. भारतीय वायुसेना ने सोमवार को पीओके में घुसकर 12 आतंकी ठिकानों को तबाह कर दिया. पुलवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में चल रहे आतंकी कैंपों को निशाना बनाते हुए बमबारी की.


भारतीय वायुसेना ने 12 ‘मिराज 2000’ (Mirage 2000) फाइटर प्लेन LOC क्रॉस करके पाकिस्तानी सीमा में दाखिल हुए और ताबड़तोड़ 1000 से ज्यादा बम गिराए. इस कार्रवाई में जैश ए मोहम्मद के कई ट्रेनिंग कैंप तबाह हो गए हैं. बताया जा रहा है कि पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान ने आतंकियों के कैंप को भारतीय सीमा से पीछे कर लिया था, जिसके चलते भारतीय वायुसेना ने फाइटर प्लेन की मदद से उन्हें तबाह किया है.


Also Read: रात जागकर वायुसेना के ऑपरेशन पर नजर बनाए हुए थे PM मोदी, पहले सर्जिकल स्ट्राइक के समय भी किया था ऐसा


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here