यूपी: लापता बेटी की तलाश के लिए DGP, ADG और DIG तक से की बात पर भी नहीं हुई कार्रवाई, सुसाइड नोट छोड़ गायब हुआ LIU कांस्टेबल

0
13

उत्तर प्रदेश के एलाआईयू बरेली की आंवला यूनिट में तैनात कांस्टेबल की बेटी बीती 21 फरवरी को लापता हो गई, जिसकी तलाश करने में नाकामयाब कांस्बेटल ने सुसाइड नोट जैसा पत्र घर छोड़कर खुद भी लापता हो गया है। इस पत्र में कांस्टेबल ने लिखा है कि वह कहीं भी और कभी भी खुदकुशी कर सकता है इसके लिए एसपी शाहजहांपुर के साथ सीओ सिटी और प्रभारी निरीक्षक कोतवाली जिम्मेदार होंगे।


सूचना पर पुलिस महकमे में मचा हड़कंप

आरोप है कि बेटी को तलाश करने को पुलिस कुछ नहीं कर रही, पुलिस आरोपियों से मिली हुई है। जिसके बाद कांस्टेबल अखिलेश बाजपेई ने डीजीपी, एडीजी और डीआईजी तक से फोन पर बात की। विभाग के आला अधिकारियों से बात करने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई।


Also Read: बरेली: सब इंस्पेक्टर के सिर पर ईट मारकर हत्या करने वाली महिला दारोगा शबनम को 7 साल की कैद


वहीं, कांस्टेबल का सुसाइड नोट जैसा पत्र मिलने से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। मिली जानकारी के मुताबिक, चौक कोतवाली क्षेत्र में रहने वाले अखिलेश वाजपेई बरेली की आवंला शाखा में कॉन्स्टेबल हैं और फिलहाल आंवला क्षेत्र का काम देख रहे हैं।


21 फरवरी को गायब हुई थी कांस्टेबल की बेटी

मिली जानकारी के मुताबिक, कांस्टेबल अखिलेश बाजपेई की 14 वर्षीय बेटी कक्षा आठ की छात्रा है। 21 फरवरी को घर से कपूर हॉस्पिटल में भर्ती मौसी को देखने निकली थी। इसके बाद से वह लापता हो गई, काफी तलाश करने पर भी कुछ पता नहीं लगा।


Also Read: यूपी: दिवंगत कांस्टेबल हनीफ की मौत के 6 साल बाद असाधारण पेंशन का प्रस्ताव भेजे जाने से सरकार नाराज, कहा- DGP तय करें दायित्व


जिसके बाद शक के आधार पर एक रिश्तेदार के खिलाफ 22 फरवरी को बेटी के अपहरण की रिपोर्ट लिखाई गई। आरोप है कि कोतवाली में दरोगा ने अपनी मर्जी से तहरीर लिखाई। बेटी की लताश कराने और आरोपियों पर कार्रवाई के लिए कई बार अधिकारियों से मिला। लेकिन कहीं से कोई मदद नहीं मिली।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here