Breaking Tube
Police & Forces UP News

‘भारत बंद’ को लेकर UP पुलिस को हिदायत,कहीं भी न आए किसानों से संघर्ष की नौबत

Allahabad High Court

कल यानी 8 दिसंबर को बुलाए गए भारत बंद (Bharat Band) के मद्देनजर यूपी पुलिस (UP Police) अधिकारियों को किसानों के साथ सख्त रवैया न बरतने की हिदायत दी गई है। पुलिस अफसरों से कहा गया है कि कहीं भी किसानों के साथ संघर्ष की नौबत न आने पाए। डीजीपी मुख्यालय स्तर से दिल्ली से सटे गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर और आसपास के जिलों के लिए अतिरिक्त फोर्स उपलब्ध कराई जा रही है।


कहा जा रहा है कि अन्य राज्यों से भी किसान उत्तर प्रदेश होते हुए दिल्ली की तरफ कूच कर सकते हैं। ऐसे में राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड की सीमा से सटे जिलों को भी अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं। इसके लिए विशेष चौकसी के साथ-साथ खुफिया तंत्र को और मजबूत करने को कहा गया है।


Also Read: कोरोना से योगी की जंग में बना एक और रिकॉर्ड, 2 करोड़ से अधिक टेस्ट करने वाला देश का पहला राज्य बना UP


बता दें कि किसानों और केंद्र सरकार के बीच शनिवार को चली पांचवें दौर की लंबी बैठक भी बेनतीजा रही। इसके बाद रविवार को दिल्ली के सिंघु बॉर्डर पर आंदोलनकारियों में रोष के साथ जोश बढ़ा हुआ दिखा। बॉर्डर पर दिनभर किसान नेता भारत बंद को लेकर रणनीति करने में जुटे रहे, वहीं पंजाब से दिन भर विभिन्न लोगों का जत्था समर्थन के लिए पहुंचता रहा।


सिंघु बॉर्डर पर पंजाब से बाइक लेकर युवा भी प्रदर्शन में समर्थन देने के लिए पहुंचे। पंजाब से पहुंचे युवा महंगी बाइकों से बॉर्डर पर पहुंचे थे, जहां उन्होंने पिछले 11 दिनों से आंदोलनरत किसानों का समर्थन जताया। युवाओं का कहना था कि किसान अपने हक के लिए मांग कर रहे हैं। ऐसे में सरकार को नए कृषि कानूनों को वापस लेना चाहिए।


Also Read: कोरोना से जंग में योगी सरकार उतार रही APP, टेस्ट सेंटर खोजना होगा आसान


आगामी दिनों में सिंघु बॉर्डर पर आंदोलनकारियों का साथ देने के लिए गुजरात से भी करीब 250 बाइकर पहुंचेंगे। किसानों ने बताया कि इसका उद्देश्य प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य से बाइकरों को बुलाकर प्रधानमंत्री तक आवाज पहुंचाना है। उधर, दिल्ली के सभी 360 गांव किसान आंदोलन के साथ खड़े हैं।


इन्होंने आठ दिसम्बर को भारत बंद का समर्थन करने का निर्णय लिया है। दिल्ली की सबसे बड़ी खाप पंचायत पालम-360 ने रविवार को इस बात की जानकारी दी है। पालम-360 खाप के प्रधान किशनचंद सोलंकी ने कहा है कि देशभर के किसानों की एक ही बिरादरी है। इसलिए उन्होंने दिल्ली की सीमाओं पर पहुंचे किसानों की हर संभव मदद करने का निर्णय लिया है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

उन्नाव: ट्रैक्टर समेत अवैध खनन के आरोपी को कोतवाली ले जा रहा सिपाही गंभीर रूप से घायल

Shruti Gaur

यूपी: छुट्टी नहीं मिलने से आहत दारोगा ने लगा ली फांसी, बीमार मां को देखने जाना था घर, सदमे से मां ने भी तोड़ा दम

BT Bureau

यूपी: अतीक के शूटर को मिला गनर तो पूर्व IPS बोले- UP Police को ऐसे जलील न करें

BT Bureau