Breaking Tube
Government UP News

सरकारी सेवकों के हित में CM योगी का बड़ा फैसला, अब औद्योगिक विकास प्राधिकरणों में भी मृतक आश्रितों को मिलेगी नौकरी

Pharma Device Park

उत्तर प्रदेश के औद्योगिक विकास प्राधिकरणों (Industrial Development Authorities) में भी मृत सरकारी सेवकों के आश्रितों को नौकरी दी जाएगी। सीएम योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश सेवा काल में मृत सरकारी सेवक के आश्रितों की भर्ती नियमावली 1947 को औद्योगिक विकास प्राधिकरण में लागू करने का फैसला किया है।


प्रमुख सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आलोक कुमार ने बताया कि सरकारी सेवाओं में सरकारी सेवकों की सेवा काल में मृत्यु हो जाने की दशा में उनके परिवार के एक सदस्य को पारिवार की आर्थिक कठिनाई दूर करने के लिए सरकारी सेवा में नियमों को शिथिल करते हुए नियुक्ति देने की व्यवस्था है। लेकिन प्रदेश के औद्योगिक विकास प्राधिकरण में इस प्रकार की व्यवस्था नहीं है।


Also Read: संवेदनशील योगी, महिला IAS की कर्मठता को प्रमोशन देकर सराहा, 14 दिन की बच्ची लेकर पहुंच गईं थीं दफ्तर


आलोक कुमार ने कहा कि इससे प्राधिकरण के किसी कर्मचारी की सेवा में रहते हुए मृत्यु होने पर उसके परिवार को घोर आर्थिक संकट का सामना करना पड़ता है। ऐसे में सरकार ने मृतकों के परिवारों की आर्थिक कठिनाई को दूर करने के लिए औद्योगिक विकास प्राधिकरण में सेवारत कर्मचारियों की मृत्यु की दशा में मानवीय आधार पर उनके परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने का फैसला किया है।


अपर मुख्य सचिव ने बताया है कि ये नियुक्तियां सामन्यत: समूह ग व घ के ऐसे गैर तकनीकी अधीनस्थ पदों पर ही की जाएंगी जिनके वेतनमान का अधिकतम पे मैट्रिक्स लेवल-4 हो। ये पद पदोन्नति के लिए आरक्षित नहीं होने चाहिए। प्राधिकरण के मृतक सेवकों के आश्रितों को जिन पदों पर नियुक्ति दी जाएगी उनको बाद में सेवानिवृत होने वाले कर्मचारियों द्वारा रिक्त किए गए पदों के विरुद्ध समायोजित किया जाएगा। 


Also Read: महिला सुरक्षा को लेकर CM योगी का बड़ा कदम, अबसे हर थाने में मिलेगी यह सुविधा


यह आदेश लोक सेवा आयोग तथा अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की परिधि में आने वाले पदों पर लागू नहीं होंगे। ये आदेश समस्त औद्योगिक विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारियों को भेज दिया गया है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

आगरा बस कथित हाईजैक मामले की सच्चाई, फाइनेंस कंपनी वाले ले गए थे बस, सवारियों को झांसी में छोड़ा

Jitendra Nishad

अयोध्या फैसले की पूरी रात नहीं सोए CM योगी, आदेश सुनते ही हो गए थे बेहद भावुक

Praveen Bajpai

गोरखपुर: जनता दरबार में CM योगी ने लगाई पुलिस अफसरों की क्लास, बोले- लापरवाह थानेदारों पर जल्द करें कार्रवाई

Shruti Gaur