Breaking Tube
Lifestyle

कोरोना काल में खुद को रखना है हेल्दी और Fit, तो लाइफस्‍टाइल में शामिल करें ये 5 आदतें

लाइफस्टाइल: कोरोना काल में लोग अपनी सेहत के साथ काम को लेकर काफी ज्यादा परेशान रहते हैं. जिसकी वजह से उन्हें काफी सारा काम भी करना पड़ता है. घर से काम करने वाले लोगों के लिए भी यह वक़्त काफी कठिन है जिसमें लोगों को खुद के खाने पीने और रहन सहन के लिए भी वक़्त नहीं मिल पा रहा है. ऐसे में उनका मानसिक तनाव काफी बढ़ता नजर आ रहा है. मानसिक तनाव की वजह से लोगों को काफी बेचैनी और तनाव भी महसूस होने लगा है. वहीँ यह हमें समझना होगा कि इस मुश्किल दौर में खुद को हेल्‍दी बनाए रखना कितना जरूरी है. ऐसे में हमें उन आदतों को अपने लाइफ स्‍टाइल में शामिल करने की जरूरत है जो हमें फिट तो बनाए ही, हमारे शरीर को हेल्‍दी भी रखे. तो आइए जानते हैं कि हमें किन आदतों को अपने लाइफ स्‍‍‍‍‍‍टाइल में फॉलो करने की जरूरत है.


टाइम पर खाएं ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर-
शरीर को भोजन की काफी आवश्यकता पड़ती है जिसकी मदद से हम दिनभर एक्टिव रहते हैं. सेहत के लिए यह बहुत जरूरी है कि हम हेल्‍दी खाना खाएं. इसलिए कभी भी अपना ब्रेकफास्‍ट, लंच या डिनर मिस ना करें और सही समय पर इन्‍हें कर लें. यही नहीं, जितना हो सके अपने भोजन को हेल्‍दी बनाए रखने की कोशिश करें.


फ्रेश खाना खाएं-
टाइम मैनेज नहीं कर पाने की वजह से इन दिनों कई घरों में लोग एक बार में दो तीन दिन का खाना बनाकर फ्रिज में स्‍टोर कर दे रहे हैं. लेकिन आपको बता दें कि बासी खाना आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है. इससे आपका डाइजेशन सिस्‍टम तो प्रभावित होगा ही, आपके भोजन की न्‍यूट्रिशनल वैल्‍यू भी कम हो जाएगी. इसलिए टाइम मैनेज करें, लोगों की मदद लें और फ्रेश भोजन करने की आदत डालें.


हमेशा रहें हाइड्रेटेड-
पानी पीना शरीर के लिए काफी फायदेमंद होता है, जिससे हमारा शरीर काफी एक्टिव रहता है. इसलिए दिनभर लिक्विड चीजों का सेवन खूब करें. दिनभर में कम से कम 7 से 8 ग्‍लास पानी पिएं. जहां तक हो सके कोल्‍ड ड्रिंक, पैकेट जूस आदि से दूर रहें ये आपको डाइबिटीज टाइप टू की तरफ धकेल सकता है. यही नहीं, इनके सेवन से वेट गेन भी हो सकता है जो कई बीमारियों की जड़ है. पर्याप्‍त पानी पीने से पेट की समस्‍या भी दूर रहती है और स्‍ट्रेस कम होता है.


अच्छी नींद लें-
रात की नींद हमारी सेहत को बहुत ज्‍यादा प्रभावित करती है. इसके कारण हमारा मूड ठीक रहता है, तनाव कम होता है, मेमरी शार्प होती है, कॉनसंट्रेशन बढ़ता है और तेजी से नई चीजों को सीख पाते हैं. यही नहीं, रात में आठ घंटे की नींद लेने पर सिरदर्द, थकान, उबासी जैसे समस्याएं भी नहीं आतीं जो कई हेल्‍द समस्‍याओं का शुरुआती चरण माना जाता है.


स्‍क्रीन टाइम-
कोरोना की वजह से हमारा स्क्रीनिंग टाइम काफी ज्यादा बढ़ गया है, जिसके चक्कर में लोग अपना काफी समय सिर्फ मोबाइल, लैपटॉप पर बिताने लगे हैं. लेकिन अगर आप अपने स्‍क्रीन टाइम को कम कर दें तो आप कई तरह से फायदे में रह सकते हैं. इसके लिए आप रात को अपने घर के वाइफाई को बंद रखें. दिन की शुरुआत सोशल मीडिया से ना करें. जब ऑन लाइन हों तो बीच बीच में ऑफलाइन भी रहें और खुद को ब्रेक दें. इंटरटेनमेंट का समय निर्धारित करें.


Also Read: खाने में जरूर शामिल करें सलाद, इम्यूनिटी और पाचन संबंधी बीमारियों से दिलाता है छुटकारा


Also Read: घर में लगाएं ये पौधे, Oxygen की नहीं होगी कोई कमी


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

50 की उम्र में अपनाएं ये डाइट प्लान, स्वास्थ्य के साथ इम्युनिटी भी रहेगी स्ट्रांग

Satya Prakash

कच्चा प्याज है सेहत के लिए वरदान, जल्द ही मिलेगी इन बीमारियों से निजात

Satya Prakash

इस करवाचौथ पर करें चन्द्रमा के साथ गणपति जी की पूजा, हर मनोकामना होगी पूरी

Satya Prakash