चीन में बोलीं सुषमा- पाक नहीं ले रहा था कोई एक्शन, तभी करना पड़ा आतंकियों पर हमला

भारत की तरफ से पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) में जैश के आतंकी अड्डों पर एयर स्ट्राइक करने के बाद विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज चीन के वूजें में बड़ा बयान दिया है. चीनी विदेश मंत्री वॉन्ग यी और रूस के विदेश मंत्री के साथ बैठक में सुषमा स्वराज ने कहा कि पाकिस्तान नहीं ले रहा था कोई एक्शन तभी आतंकियों पर हमला करना पड़ा. अब आतंकवाद के खिलाफ निर्णायक जंग का समय आ गया है.


सुषमा स्वराज ने चीन और रूस के विदेश मंत्रियों को पीओके के बालाकोट में एयर स्ट्राइक के बारे में भी बताया. उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान लगातार आतंकी संगठनों को पनाह देने की बात नकारता रहता है. इसी बीच हमें खबर मिली कि जैश ए मोहम्मद भारत में और आतंकी हमले करने की फिराक में है, जिसके बाद भारत सरकार ने उसके खिलाफ कार्रवाई का फैसला किया. हमने इस तरह से लक्ष्य निर्धारित किया कि आम लोगों को कोई नुकसान ना पहुंचे.


रूस-भारत-चीन के विदेश मंत्रियों की बैठक से अलग हुई इस मुलाकात के दौरान स्वराज ने कहा किमैं ऐसे वक्त में चीन आई हूं जब भारत में शोक और गुस्से का माहौल है. यह जम्मू-कश्मीर में हमारे सुरक्षा बलों के खिलाफ सबसे भीषण हमला है. उन्होंने कहा यह हमला पाकिस्तान स्थित और समर्थिक संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने किया है.


स्वराज ने कहा कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद अंतरराष्ट्रीय समुदाय की मांग के बाद भी पाकिस्तान ने गंभीर होने बजाय हमले की जानकारी होने से इनकार कर दिया और जैश-ए-मोहम्मद के कबूलनामों को भी नहीं माना. स्वराज ने आतंकवाद का मुद्दा उठाते हुए कहा कि पुलवामा में भयानक आतंकी हमला ये याद दिलाता है कि सभी देशों को आतंकवाद के खिलाफ जीरो टोलिरेंस की नीति अपनानी होगी.


स्वराज ने बैठक में कहा कि पाकिस्तान अपने यहां आतंकवादी संगठनों के पलने की बात मानने से और उनपर कार्रवाई करने से इनकार करता रहा है. जैश-ए-मोहम्मद आगे भी भारत पर हमले की योजना बना रहा था। भारत सरकार ने इसपर कार्रवाई करने का निर्णय लिया. ऐसा लक्ष्य चुना गया जिससे आम नागरिकों को हानि ना पहुंचे.


उन्होंने कहा कि ये कोई मिलिट्री ऑपरेशन नहीं था, इसमें किसी मिलिट्री इंस्टॉलेशन को भी निशाना नहीं बनाया गया. इसका उद्देश्य भारत में एक और हमले को रोकने के लिए आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के खिलाफ कार्रवाई करना था. भारत स्थिति को बढ़ते नहीं देखना चाहता. भारत जिम्मेदारी और संयम के साथ काम करना जारी रखेगा.


Also Read: रात जागकर वायुसेना के ऑपरेशन पर नजर बनाए हुए थे PM मोदी, पहले सर्जिकल स्ट्राइक के समय भी किया था ऐसा


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here