Breaking Tube
Police & Forces

यूपी: यदि दबिश के दौरान पुलिसकर्मी होता है घायल, तो संबंधित थानाध्यक्ष पर होगी कार्रवाई, DGP का आदेश

DGP Hitesh chandra Awasthi

आए दिन यूपी पुलिस पर हमले की खबरें सामने आती रहती हैं, जिसके चलते अब डीजीपी हितेश चन्द्र अवस्थी ने एक सराहनीय कदम उठाया है। उन्होंने ये कहा है कि पुलिसकर्मी यदि कानून-व्यवस्था की किसी स्थिति से निपटने या किसी अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए दबिश देने जाएं तो वे दंगारोधी उपकरणों से लैस हों। इसकी जिम्मेदारी पूरी तरह से थाना प्रभारी की होगी।


डीजीपी ने कहा ये

जानकारी के मुताबिक, आए दिन ये खबरें सुनने में आती हैं जब दबिश देने गई पुलिस टीम हा दंगा नियंत्रण में पुलिसकर्मियों पर हमला हो गया। कई जगह पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हो जाते हैं। इन्हीं सबसे पुलिसकर्मियों को बचाने के लिए डीजीपी ने ये कदम उठाया है। डीजीपी ने कहा है कि यदि दंगारोधी उपकरणों का उपयोग न करने के कारण कोई पुलिसकर्मी घायल होता है तो संबंधित थानाध्यक्ष के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।


Also read: 69000 शिक्षक भर्ती: फर्जीवाड़े के खुलासे के पीछे है इन IPS अफसरों की मेहनत, CBI की तर्ज पर किया काम


अपराधियों पर जल्द कार्रवाई का भी दिया निर्देश

इसके साथ ही डीजीपी ने यह सलाह दी है कि जिन स्थानों पर पूर्व में पुलिस बल पर हमले की घटनाएं हुई हैं वहां पर्याप्त पुलिस बल के साथ जाएं। उन्होंने पुलिस पर हमलों के शेष वांछित अभियुक्तों की तत्परता से गिरफ्तारी करने तथा लंबित विवेचनाओं का गुणदोष के आधार पर पुष्टिपरक साक्ष्य एकत्र कर समयबद्ध निस्तारण करने का निर्देश भी दिया है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )

Related news

कन्नौज में पुलिस कर्मियों ने किया मानवाधिकार का उल्लंघन, आयोग ने DGP को थमाया नोटिस

BT Bureau

यूपी में बड़ा प्रशासनिक फेरबदल, 14 IPS अफसरों का ट्रांसफर, बदले कई जिलों के कप्तान

Shruti Gaur

यूपी: अपनी माँ के साथ मिलकर सिपाही ने दूसरी शादी के लिए रचा षड़यंत्र, फिर पुलिस ने पहुंचाया ‘ससुराल’

S N Tiwari