UP: परिवहन निगम के कर्मचारियों का बढ़ा महंगाई भत्ता, वेतन में 6000 रुपए तक की बढ़ोतरी

उत्तर प्रदेश के परिवहन निगम के नियमित कर्मचारियों के चेहरों पर मुस्कान लेने वाली खबर सामने आई है। सार्वजनिक उद्यम विभाग की अध्यक्षता में गठित अधिकृत समिति ने महंगाई भत्ते के भुगतान को मंजूदी दे दी है। ऐसे में परिवहन निगम के करीब 20 हजार नियमित कर्मियों को अब 17 फीसदी महंगाई भत्ता (Dearness allowance) मिलना तय हो गया है। अभी तक रोडवेज कर्मियों को पांच फीसदी महंगाई भत्ता मिलता रहा है।

सोमवार को शासन की ओर से जारी कार्यवृत्त के मुताबिक, रोडवेज के हर कर्मचारी को प्रति महीने वेतन में 2500 से 6000 रुपये तक की बढ़ोत्तरी तय है। परिवहन निगम सहित सार्वजनिक उपक्रमों के कर्मचारी संगठनों की लड़ाई का परिणाम आ गया। इसी क्रम में रोडवेज कर्मचारी संयुक्त परिषद के साथ बीते 14 दिसंबर को हुए समझौते के बाद 23 दिसंबर को शासन स्तर पर अधिकृत समिति की बैठक में महंगाई भत्ता दिए जाने पर निर्णय लिया गया।

Also Read: UP में अब नए साल से शादी की इच्छुक विधवा महिलाओं को भी मिलेगा मुख्यमंत्री कन्या विवाह का अनुदान

रोडवेज परिषद के अध्यक्ष चंद्रशेखर पांडे व महामंत्री गिरीश चंद्र मिश्र ने बताया की अधिकृत समिति के सदस्यों एवं प्रमुख सचिव परिवहन व निगम के प्रबंध निदेशक को इस निर्णय के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया है और अपेक्षा किया है की वार्ता में बनी सहमति के अनुसार अन्य बिंदुओं पर जल्द ही निर्णय लिया जाएगा।

उत्तर प्रदेश रोडवेज कर्मचारी संघ द्वारा उठाई मांग पर प्रबंध निदेशक के प्रयास रंग लाए। प्रमुख सचिव परिवहन के सहयोग से सोमवार को 17 फीसदी महंगाई भत्ता का आदेश जारी हो गया। संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष राकेश कुमार सिंह, महामंत्री रमाकांत सचान व अवध यादव ने संयुक्त रूप से बताया कि कर्मचारी संघ के प्रयास से कर्मचारी और निगम हित में बड़ी सफलता मिली है। इसके लिए संघ कर्मचारियों को पूर्ण निष्ठा से काम करके निगम को 70 फीसदी यात्री लोड फैक्टर का लक्ष्य प्राप्त करने की अपील की है।

( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं. )