मुस्लिम युवकों ने पीएम को खत लिखकर सेना में भर्ती होने की मांग की, बोले- हम लेंगे भाइयों की शहादत का इंतकाम

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में भारतीय सेना पर हुए आतंकी हमले के बाद पूरे देश में शोक की लहर है, साथ ही अपने जवानों को खोने का गुस्सा भी। देश के वीर जवानों की शहादत का बदला लेने के लिए हर व्यक्ति की आंखों में आग दिख रही है। ऐसे में शामली जिले के कैराना में मुस्लिम युवकों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने खून से खत लिखकर सेना में भर्ती होने की मांग की है।


मुस्लिम युवकों ने बगैर वेतन के सेना में भर्ती होने की मांग की

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, कैराना के मोहल्ला खैलकलां निवासी खलील फरीदी और मोहल्ला अंसारियान निवासी सलीम ने कहा है कि आतंकवादियों की कायरतापूर्ण हरकत की वजह से देश के 40 जवानों की शहादत से गहरा आघात पहुंचा है। ऐसे में रविवार को खलील फरीदी और सलीम ने अपने खून से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत लिखा। इन दोनों मुस्लिम युवकों ने खून से लिखे खत के जरिए सैनिकों की शहादत का बदला लेने की मांग की है।


Also Read: पहला बदला पूरा, पुलवामा अटैक का मास्टर माइंड अब्दुल रशीद गाजी एनकाउंटर में ढेर


सूत्रों ने बताया कि कैराना के खलील फरीदी और सलीम दोनों युवकों ने प्रधानमंत्री को लिखे खत में कहा कि वे बिना वेतन के भारतीय सेना में भर्ती होकर अपने भाइयों की शहादत का बदला लेने को तैयार हैं। दोनों युवकों ने कहा है कि वो बॉर्डर पर जाकर आतंकवादियों को ईंट का जवाब पत्थर से देंगे।


बता दें कि जम्मू कश्मीर के पुलावामा में हुए आतंकी हमले में भारतीय सेना के 40 जवान शहीद हो गए। वहीं इस आत्मघाती हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली। भारतीय सेना पर घात लगाए आतंकियों ने हमला किया। जिसका आक्रोश पूरे देश में दिख रहा है।


( देश और दुनिया की खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें, आप हमेंट्विटरपर भी फॉलो कर सकते हैं. )

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here